कान में दर्द का इलाज,कान में सूजन,कान में मावाद,कान में कीड़े का इलाज| kan dard

Posted on Modified on

[the_ad id=”1268″]

नोट:- कान में दर्द,  कान में सूजन, कान में मावाद, कान में कीड़े, का इलाज एक प्रशिक्षित डॉक्टर की मदद से लिखा गया है | अच्छी तरह से इलाज के लिए पूरा पढ़ें

कान में दर्द का इलाज,कान में सूजन,कान में मावाद,कान में कीड़े का इलाज| kan dard

स्वास्थ्य फोरम में सवाल पूछने के लिए – क्लिक कीजिए

विभिन्न कारणों से कान में अनेक प्रकार के रोग यथा कान में तरह-तरह की आवाज आना, बहरापन अर्थात सुनाई न देना, कांस्य स्त्राव बहना, कान में फुंसी या घाव होना कान में सूजन या दर्द होना, कान में खुजली मचना, कान में कीड़े पड़ जाना, कान का पक जाना, कान का कम सुनाई देना, आदि उत्पन्न हो जाते हैं |

कान के विभिन्न रोगों की चिकित्सा में लाभ कर औषधियों का प्रयोग किया जा सकता है | तो चलिए कुछ औषधियों के बारे में जानते हैं जो कान में दर्द कान में तरह-तरह की आवाज आने, बहरापन, कान से खून का बहना, कान में फुंसी होना, आदि कई समस्याओं को ठीक कर सकते हैं |

[the_ad id=”1285″]

कान में दर्द के लिए टिप के लिए पढ़े 1 से लेकर 17 पॉइंट तक 

कान में सूजन के लिए टिप के लिए पढ़े 18 से लेकर 20 पॉइंट तक 

कान में मावाद / बहना के लिए टिप के लिए पढ़े 21 से लेकर 26 पॉइंट तक

कान में कीड़े के लिए टिप के लिए पढ़े 27 से लेकर 33 पॉइंट तक 

कान में खुजली के लिए टिप के लिए पढ़े 34 से लेकर 37 पॉइंट तक 

कान में घाव/ चोंट के लिए टिप के लिए पढ़े 38 से लेकर 40 पॉइंट तक 

 अब: कान दर्द के उपाय / कान दर्द के इलाज / कान दर्द कैसे ठीक करे /  कान दर्द कर रहा है / कान में दर्द / कान दर्द

  1. पपडिया कत्था में कुछ गर्म पानी मिलाकर कान में डालने से कान का घोर दर्द दूर होता है l
  2. भांग को पीसकर मीठे तेल में गरम करें और छानकर कान में डालें इससे सर्दी गर्मी के कारण हर तरह से कान में होने वाला दर्द दूर हो जाता है l
  3. दूध पीते बालक के पेशाब को लेकर थोड़ा सा उसे गर्म कर लें और कान में डालें इससे सर्दी के कारण होने वाला कान दर्द दूर हो जाता है |
  4. नीम के पत्तों को पीसकर कान में चिपकाने से कान का दर्द ठीक हो जाता है l
  5. शराब कान में दो बूंद डालने से भी कान का दर्द दूर होता है और इससे कान में मैल निकल जाता है l [the_ad id=”1268″]
  6. प्याज का रस थोड़ा गर्म कर लें और कान में डालें इससे ऊंचा सुनने में और कान में भिन्न-भिन्न की आवाज आने में और दर्द होने में और बहने में लाभ होता है l
  7. आँक के पीले ल पत्तों पर घी चुपड़कर उनको दीपक की लौ या आग पर सेंके, फिर उन्हें पीसकर रस निचोड़ ले इस रस को सुहाता-सुहाता (धीरे-धीरे) कान में डालने से कान का दर्द दूर हो जाता है | कान में दर्द ठीक होता है
  8.  सुहाते-सुहाते गर्म दूध में घी मिलाकर 3 दिन तक पीने से कर्णशूल यानी कि कान का दर्द दूर हो जाता है l
  9. अदरक का रस, शहद 3 बूँद और तिल का तेल 3 बूँद इन सबको मिलाकर कान में भरने से कान में दर्द, कर्णनाद, बहरापन, और कान में बांसुरी की आवाज होना आदि दूर हो जाते हैं l
  10. सेंधा नमक, अदरक, मुलेठी तथा तेल इनको एकत्र यानी एक साथ पकाएं और तेल को छान लें | इस तेल को सुहाता सुहाता कान में डालने से कर्णशूल अर्थात कान का दर्द दूर होता है |
  11.  बकरी के दूध में सेंधा नमक मिलाकर उसे जरा सा गरम करके कान में डालने से तत्काल घोर कर्णशूल यानि कान का दर्द भी दूर होता है | इससे कान में आवाज आना तथा मवाद बहना भी बंद हो जाता है | इसकी मदद से कान में हो रहे शूल अर्थात दर्द को दूर किया जा सकता है l
  12. सफेद कत्था कपड़े में बाँटकर और गर्म पानी में मिलाकर पिचकारी द्वारा कान में डालने से और बाद में कान को धो लेने से कुछ ही दिनों में बहरापन और कान में दर्द दूर हो जाता है |
  13. गोमूत्र को गर्म करके कान में भरने से कान का दर्द निश्चित रूप से दूर होता है l
  14. बिजोरा, नींबू के रस में थोड़ा सा सज्जी का चूर्ण मिलाकर कान में डालने से कान का दर्द कान की जलन तथा कान का बहना तुरंत दूर हो जाता है l
  15.  सफेद आक की जड़ को सिल पर पानी के साथ पीस लें फिर इस लुगदी को तथा इस लुगदी से चौगुने तेल को और तेल से चौगुने पानी को मिलाकर तेल पका लें इस तेल को कान में डालने से कान का तेज दर्द भी दूर होता है l [the_ad id=”1268″]
  16. सुदर्शन के पत्ते पर तेल लगाकर तथा उसे कुछ गर्म करके रस निचोड़ लें इसका धीरे-धीरे रस कान में डालने से कान का दर्द दूर हो जाता है |

अब : कान का सूजन कैसे दूर करें / कान में सूजन दूर करने का उपाय / कान के सूजन का इलाज

  1. आंवला एक भाग और हल्दी दो भाग यानी कि आंवला एक चम्मच और हल्दी 2 चम्मच पानी में पीसकर लेप लगाने से कर्णसोथ यानी कान का सूजन दूर होता है l
  2. अगर कान के पीछे सूजन हो तो मसीह अर्थात चकलोन के पेड़ की नई पत्तियां लाहौरी नमक के साथ पीसकर लेप करने से लाभ होता है |
  3. प्याज के रस मेंथी या अलसी या इसबागोल के लुआब में मिलाकर आग पर पका लें और कान पर लगाएं इससे कान की सूजन बहकर कान से बाहर निकल जाती है |

अब : कान में मवाद कैसे दूर करें / कान में मवाद आता है / कान बहना कैसे ठीक करें / कान बह रहा है / कान बहने का इलाज

  1. चमेली के पत्तों का साक्ष्य स्वरस और पावर तेल को मिलाकर आग पर पकाएं रस जलकर तेल मात्र रहने पर उतार कर छान लें | इस तेल को कान में डालने से पूर्ति कर्ण रोग यानी कान से बदबूदार मवाद आना दूर होता है |
  2. महिला के दूध में रसौत को पीसकर उसमें शहद मिला दे और फिर कान में डालें इस उपाय से बहुत दिनों से बहता हुआ कान और कान में फोड़ा वगैरह फूटने से बदबूदार मवाद का आना दूर होता है | साथ ही साथ यह कान में हो रहे दर्द को भी खत्म करता है l

[the_ad id=”1268″]

  1. बरगद, गूलर, पाकर, पीपल का पेड़ की छाल का चूर्ण, कैथ का रस एवं शहद इन सबको मिलाकर कान में डालने से पूर्ति करने यानी कान से बदबूदार मवाद आना बंद होता है l

‘कान में दर्द का इलाज,कान में सूजन,कान में मावाद,कान में कीड़े का इलाज| kan dard’

  1. एक तोला खैर, बबूल की छाल दो तोला तथा 2 तोला जामुन की छाल को लेकर एक सेर पानी में पकाएं जब आधा सिर पानी बाकी रह जाए उतार कर इसे डाल लें इसके द्वारा कान की पीब, कान में मवाद दूर होता है |
  2. बरगद, गूलर, पाकर, पीपल का पेड़ की छाल का चूर्ण, कैथ का रस एवं शहद इन सबको मिलाकर कान में डालने से पूर्ति करने यानी कान से बदबूदार मवाद आना बंद होता है l

 

  1. जामुन और आम के नए पत्ते, कैथ और कपास के ताजा फल इन सबको समान भाग में लेकर पीस कूटकर इसका रस निचोड़ ले फिर उस रस में शहद मिलाकर कान में डालें | इससे कान का बहना कान में कीड़े पड़ना कान में दर्द आदि दूर होते हैं l

 

अब: कान में कीड़े कैसे हटाए, कान में कीड़े पड़ गए है , कान में कीड़ों का इलाज, कान में कीड़ों का उपाय, कान में कीड़ें कैसे दूर करें

  1. बैंगन का धुआँ कान में पहुंचाने से कृमि कर्ण रोग दूर होता है अर्थात कान के कीड़े मर जाते हैं l
  2.  कान में गूगल की धूनी देने से कान की दुर्गंध और कान के कीड़े मर जाते हैं l
  3. सरसों का तेल कान में डालने से कान के कीड़े नष्ट होते हैं l
  4. पुदीने के पत्तों के अर्क में सफेद आलू मिलाकर कान में डालने से कान के कीड़े नष्ट होते हैं |
  5. कान में मच्छर वगैरह घुस जाए तो कसौंदी के पत्तों को रस का रस कान में लगाएँ इससे लाभ होगा ।
  6. 3 बूँद तिल का तेल कान में टपकाने से कान के कीड़े मर जाते हैं l
  7.  हल्दी की एक गांठ, 10 बूंद शहद, 4 तोला नीम का पत्ता ले और नीम के पत्ते का रस निकालने के बाद एक तोला सरसों का तेल इन सबको मिलाकर आग पर अच्छी तरह से पकाएं | जब मिश्रण में मौजूद शहद और भी कई दवाएं जलकर तेल मात्र बचे तब पकाकर छान लें | इस तेल की दो बूंदें कान में  डालने से कान के कीड़े मर जाते हैं |

 

अब: कान में खुजली कैसे दूर करे, कान में खुजली का इलाज / कान में खुजली हटाएँ

[the_ad id=”1268″]

  1. नीम के पत्तों को पानी में उबालकर बफारा लेने से कान की मैल निकल जाती है l और खुजली दूर होती है |
  2. पपडिया कत्था को सेब के सिरके में महीन पीस कर छान लें और कुछ गर्म करके कान में डालें इससे ऊंचा सुनाई देने में लाभ होता है और कान की खुजली दूर होती है |
  3. चमेली के तेल में थोड़े से अलवा को खूब मिलाकर करके और गर्म करके कान में डालने से कान की खुजली दूर होती है |
  4. सरसों का तेल और सेब का सिरका मिला लें और इसे छानकर कान में डालें इससे कान की खुजली दूर होती है |

अब: कान में घाँव कैसे ठीक करे, कान में चोंट का इलाज, कान में घाँव का इलाज

  1.  समंदर फेन का चूर्ण कागज की फकनी द्वारा कान में फकने से कान के घाव ठीक हो जाते हैं l
  2. अगर बालक के कान के पीछे घाव हो गया हो तो तिलक लगाने की रोली को बालक के पेशाब या जल में पीसकर घाव पर लगा दे यद्यपि इससे कुछ देर तक जलन होगी पर फायदा पूरा होगा |
  3. बकरी का दूध कान में टपकाने से कान के घाव दूर होते हैं l

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *