प्रेगनेंसी का दूसरा सप्ताह – 2nd week pregnancy in Hindi

प्रेगनेंसी के दूसरे सप्ताह में भी आप गर्भवती नहीं हुई हैं। इस सप्ताह मेंं भी आपके गर्भाशय में कोई बच्चा नहीं है। लेकिन इस सप्ताह में आपका गर्भाशय गर्भधारण करने के लिए थोड़ा ज्यादा तैयार हो गया है। गर्भवस्था के दूसरे सप्ताह में आपके शरीर में कई तरह के बदलाव होने लगते हैं। आइए इसके लक्षण के बारे

(गर्भावस्था) प्रेगनेंसी का दूसरा सप्ताह का लक्षण – 2nd week pregnancy symptoms in Hindi

इस दौरान आपका शरीर ओवुलेशन के लिए तैयार हो रहा है। अब आपका शरीर और भी कई तरह के लक्षण दर्शाएगा।

आपके बेसल बॉडी टेम्प्रेचर (BBT) में परिवर्तन

आपका BBT अपने सबसे निचले स्तर पर आ जाता है, जब आप ओव्यूलेट करते हैं तब आपके शरीर का तापमान लगभग आधा डिग्री बढ़ जाता है।

सर्वाईकल म्यूकस में बदलाव

आपका सर्वाइकल म्यूकस, पतला, स्पष्ट और रेशेदार हो जाता है। दरअसल इन बदलाव से सर्प्म को Cervix के भीतर जाने में आसानी होती है और गर्भधारण के चांस बढ़ जाते हैं।

स्तन का दर्द देना या कोमल हो जाना

ओवुलेशन से जुड़े हॉर्मोन में बदलाव के चलते आपके स्तन थोड़े कोमल या दर्द भरे हो सकते हैं।

स्पाटिंग

ओवुलेशन के दौरान आप अपने अंडरवियर में खून के कुछ धब्बे देखने को मिल सकते हैं।

से*क्स ड्राइव अच्छी हो जाती है

इस समय आपको लम्बे समय तक से*क्स करने का मन पड़ता है। इसके साथ आपको से*क्स के समय सुखद अनुभूति की प्राप्ति होती है।

इसे भी पढ़ें – प्रेगनेंसी में क्या खाएं और क्या नहीं

सूंघने की क्षमता बढ़ जाती है

कई तरह के हारमोनल बदलाव के चलते महिलाओं के सूंधने की क्षमता कई गुना बढ़ जाती है।

पेट के निचले हिस्से में दर्द और गैस की समस्या

कई बार यह दर्द बहुत खतरनाक होता है। अचानक से पेट में एठन शुरू हो जाती है तो वहीं कुछ देर बाद यह दर्द कम हो जाता है।

बार-बार पेशाब आने की समस्या

अगर आप गर्भवती हो गई हैं तो आपको बार-बार पेशाब आने की समस्या हो सकती है।

इसे भी पढ़ें – एक दिन में प्रेग्नेंट कैसे हो

गर्भावस्था के दूसरे सप्ताह का अल्ट्रासाउंड: क्या आपको इसकी जरूरत है? – pregnancy 2nd week ultrasound in Hindi

प्रेगनेंसी का पहला सप्ताह, प्रेगनेंसी का दूसरा सप्ताह प्रेगनेंसी का पहला सप्ताह, प्रेगनेंसी का दूसरा सप्ताह

अभी भी आपको अल्ट्रासाउंड की कोई जरूरत नहीं है।

पढे़- प्रेगनेंसी का तीसरा सप्ताह – 3rd week pregnancy in Hindi

दूसरे सप्ताह के गर्भावस्था की जीवन शैली – 2nd week pregnancy lifestyle in Hindi

एक स्वस्थ जीवन शैली अपनाएं- स्वस्थ आहार खाना, नियमित रूप से व्यायाम करना, भरपूप पानी पीना और पर्याप्त नींद लेने जैसी आदतें, आपको तेजी से गर्भ धारण करने में मदद कर सकती हैं।

पढ़ें- बिना किट के प्रेगनेंसी टेस्ट करें करें

इसके साथ आप पूरी नींद लें, और मल्टीविटामिन्स का सेवन करें।

प्रेगनेंसी का दूसरा सप्ताह और यौन संबंध

इस सप्ताह भरपूर से*क्स करें। ऐसा करने से गर्भवती होने की संभावना बढ़ जाती है।

इन बातों का ध्यान दें – precautions and tips in 2nd week pregnancy in Hindi

  • अपने ओवुलेशन टाइम पर नज़र रखें
  • ओवुलेशन संकेतों पर नज़र रखें
  • ओव्यूलेशन टेस्ट लें
  • नियमित रूप से से*क्स करें
  • विटामिन्स का भरपूर सेवन करें
  • डॉक्टर से मिलें
Default image
Sarthak upadhyay
Sarthak upadhyay is a health blogger and creative writer, who loves to explore various facts, ideas, and aspects of life and pen them down. sarthak is known with English and hindi. Writing is his passion, and enjoys writing on a vast variety of subjects. Relationship, Astrology, and entertainment, Periods, pregnancy, and Home-remedies are his specialty areas.

Leave a Reply