बच्चा गिराने की दवा, abortion pills baccha girane garbh giranae ki dawa

बच्चा (गर्भ) गिराने की दवा- abortion pills in Hindi

Posted on

अगर आप हमसे फेसबुक में बात कर के सीधा जवाब पाना चाहते हैं तो नीचे दी गई contact us बटन पर क्लिक करें!

सम्भोग के दौरान गलती हो जाने के कारण अक्सर अनचाहा गर्भ ठहर जाता है और उसे आप गिराना चाहते हैं। बच्चा गिराने की दवा को उपयोग करने से पहले उसकी कुछ नियम व शर्ते होती हैं।अधिकांश, अनचाहे गर्भ से बचने के लिए unwanted 72 यूज किआ जाता है, लेकिन, यह सिर्फ ७२ घंटे के गर्भ को ही समाप्त कर पाता है। हम आपको उन दो दवाओं के बारे में बताएँगे जिन्हें गर्भ गिराने के लिए डॉक्टर प्रयोग करते हैं और ये दवाएं 1 से 3 महीने तक के बच्चा गिराने की क्षमता रखते हैं। लेकिन उसके पहले आप कुछ सावधानियाँ जरूर पढ़ लें।

आप गोलियों से कब गर्भ नहीं गिरा सकते हैं

कुछ चीजं हैं जो अगर आपके साथ मेल नहीं खाती हैं तो आप अनचाहा गर्भ गिराने में दवा का सहारा नहीं ले सकते हैं।

  • जैसे कि-
    • अगर आप 10 सप्ताह से ज्यादा समय से गर्भवती हैं।
    • अगर आपके रक्त के थक्के बन जाते हैं या फिर आपको adrenal failure की समस्या होती है।
    • अगर आप बर्थ कण्ट्रोल के लिए IUD का इस्तेमाल करती हैं (पहले इसे निकलवाना होगा)
    • उन दवाओं से आपको एलर्जी है जो गर्भपात के लिए प्रयोग की जाती हैं।
    • अगर आप पहले से ही किसी बीमारी की दवा का प्रयोग कर रहे हैं जो एबॉर्शन पिल्स के साथ नहीं ली जा सकती हैं।
    • अगर आपने डॉक्टर या स्त्री रोग विशेषज्ञ से सलाह नहीं ली है।
    • अगर आपके इलाके में इमरजेंसी मेडिकल फैसिलिटी नहीं है।

क्या आप बिना डॉक्टर की सलाह से बच्चा गिराने की दवा यूज कर सकते हैं

आपको भारत सरकार द्वारा गर्भावस्था को समाप्त करने के लिए अनुमोदित केंद्र में एक स्त्री रोग विशेषज्ञ से मिलना होगा नहीं तो, आपको किसी भी अच्छे gynologist से बात करनी होगी। जिन सभी स्थानों को गर्भ गिराने की मान्यता प्राप्त नहीं है वे अवैध हैं।

स्त्री रोग विशेषज्ञ द्वारा गर्भावस्था की सही गर्भकालीन आयु और स्थान की पुष्टि करने के बाद गर्भ गिराने की गोलियाँ दी जाएंगी। भारत सरकार द्वारा गर्भपात के लिए कुछ कानून है।

इस दौरान आपको हैवी ब्लीडिंग भी हो सकती है, इसलिए इसे बिना डॉक्टर के निगरानी में कराना पूरी तरह से असुरक्षित है।

बच्चा गिराने की दवा, टेबलेट या गोली का नाम

गर्भपात की दवा के लिए डॉक्टर अक्सर दो टेबलेट का सलाह देते हैं। इसके साथ वे आपको एक और एंटीबायोटिक देंगे जो आपको इन्फेक्शन से दूर रखने में आपकी मदद करेगी। आमतौर पर जो टेबलेट यूज की जाती हैं उनका नाम नीचे दिया गया है-

Mifepristone

Mifepristone के संयोजक काफी ज्यादा सुरक्षित हैं और यही वजह है की अधिकतर gynologist या डॉक्टर इसकी सलाह देते हैं। इसके सेवन के बाद misoprostol को लेने के लिए सलाह दिया जाता है क्योंकि यह इसके ह प्रयोग करने के बाद ज्यादा फायदेमंद होती है।

misoprostol

Misoprostol का इस्तेमाल mifepristone के साथ उपयोग किया जाता है ताकि गर्भपात ज्यादा प्रभावी हो।

गर्भपात की दवा कैसे इस्तेमाल करते हैं

  1. इसकी लम्बी प्रोसेस है चलिए अच्छी तरह से समझते हैं। सबसे पहले आपको गर्भपात के लिए सरकारी संस्था या फिर वैध अस्पताल जाना होगा।
  2. डॉक्टर या स्त्री विशेषज्ञ आपके स्वास्थ्य की जांच करेगा, और अगर आप एबॉर्शन के लिए स्वस्थ हैं और आप दवा से गर्भ गिरा लेने की शर्तों को पूरा कर लेते हैं तो वह आपको दवा खाने की सलाह देगा।
  3. इसके बाद डॉक्टर आपके यूरिन, ब्लड की टेस्ट करेगा। इसके साथ शारीरिक परीक्षा और अल्ट्रासाउंड भी कराया जाएगा।
  4. आपको इसके नतीजे के बारे में जानकारी दी जाएगी और आपसे एक फॉर्म में हस्ताक्षर करा लिए जाएँगे।
  5. डॉक्टर ऊपर बताई गई दो दवाइयों को अपनी निगरानी में खाने को कहेगा। यदि आप डॉक्टर के क्लिनिक से काफी दूर रहते हैं तो डॉक्टर गर्भपात की दवा को प्रयोग करने की सलाह नहीं देगा।
  6. डॉक्टर पहले आपको mifepristone खाने की सलाह देगा। और वह आपको दूसरी दवा misoprostol को खाने के लिए सही समय और सलाह देगा।
  7. दूसरी दवा लेने के बाद, आपको पेट दर्द, उल्टी, मतली, सिर दर्द और ऐंठन महसूस होगा। आपको भारी रक्तस्राव होगा और आपकी योनि से रक्त के थक्के और ऊतक निकलेंगे। यह सब होते अक्सर 3 से 5 घंटे लगते हैं। ब्लीडिंग आपके पीरियड्स से थोडा ज्यादा मात्रा में होगी। अगर यह सब हो रहा है तो समझिये दवा काम कर रही है।
  8. 4 से 8 सप्ताह के बाद आपको नार्मल पीरियड्स होना शुरू हो जाएँगे।

सावधानी:

  1. दर्द दूर करने के लिए आप डॉक्टर के द्वारा बताई गई दवा ही प्रयोग करें।
  2. बच्चा गिराने की टेबलेट को उपयोग करने के बाद आप कम से कम दो सप्ताह तक सम्भोग नहीं कर सकते हैं।
  3. जब आप सम्भोग करना शुरू करें तो ध्यान दें, कि आप एक बेहतर गर्भनिरोधक उपाय यूज कर रहे हैं।
  4. यह सुनिश्चित करने के लिए कि गर्भपात पूरा हो गया है और आपको कोई समस्या नहीं है, आपको डॉक्टर के पास जाकर एक सफल जांच करानी चाहिए। यदि दवा काम नहीं करती है, तो आपको एक इन-क्लिनिक गर्भपात की आवश्यकता होगी।

गर्भ गिराने की टेबलेट के साइड इफेक्ट्स

ज्यादातर महिलाओं का मेडिकल गर्भपात सुरक्षित होता है। कुछ खतरे होते हैं, जिनमे से अधिकांश का इलाज आसानी से किया जा सकता है।

  1. भारी रक्तस्राव
  2. संक्रमण
  3. आपके गर्भाशय में रक्त के थक्के

मेडिकल गर्भपात आम तौर पर बहुत सुरक्षित होते हैं। ज्यादातर मामलों में, यह आपके बच्चा पैदा करने की क्षमता को प्रभावित नहीं करता है।

आपको डॉक्टर को कब बुलाना पड़ सकता है

अगर आप abortion की गोली या बच्चा गिराने की टेबलेट को उपयोग करते हैं और आपको नीचे दी गई कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ता है तो आपको तुरंत ही अपने डॉक्टर को बुलाना चाहिए या फिर आपको खुद उनके पास जाना चाहिए।

  • भारी रक्तस्राव – आप हर घंटे 1 या 2 पैड यूज कर रहे हैं।
  • 2 घंटे या उससे अधिक समय तक रक्त के थक्के बनने पर, या थक्के एक नींबू से बड़े होने पर।
  • आपको यह लगता है कि आप अभी भी गर्भवती हैं।
  • यदि आपको इन्फेक्शन के लक्षण लगते हैं, तो आपको अपने डॉक्टर को भी कॉल करना चाहिए।
  • आपके पेट या पीठ में बहुत तेज और भयंकर दर्द होने पर।
  • 100.4 ° F (38 ° C) से तेज बुखार या 24 घंटे से ज्यादा बुखार होने पर।
  • गोलियां लेने के 24 घंटे से अधिक समय तक उल्टी या दस्त।
  • योनी से दुर्गन्ध भरा स्त्राव होने पर।

खतरा: अगर आप अपनी मर्जी से और डॉक्टर के बिना सलाह के गर्भनिरोधक दवा का प्रयोग करते हैं तो इससे आपकी जान को खतरा हो सकता है इसलिए आप किसी भी गर्भनिरोधक दवा का प्रयोग डॉक्टर की निगरानी में ही करें।

Gravatar Image
Sarthak Upadhyay is a health blogger and creative writer, who loves to explore various facts, ideas, and aspects of life and pen them down. The whole site is managed by him. Writing is his passion and enjoys writing on a vast variety of subjects. Periods, pregnancy, and Home-remedies are his specialty areas.

2 thoughts on “बच्चा (गर्भ) गिराने की दवा- abortion pills in Hindi

  1. सर मेरी gf pregnent हो गई है 2 महीने का है कोई बढ़िया उपाय बाटाए गिराने के लिए

    1. आपको डॉक्टर से ही बात करनी पड़ेगी| हमने लेख में केवल जानकारी दी है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *