bhukh badhane ki dawa – भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा, सीरप,और टेबलेट

प्रेजेंट टाइम में देखा जाए तो अनाज की खेती के दौरान कई तरह के ऐसे कीटाणुनाशक और अनाज वृद्धि केमिकल का उपयोग होता है जिसकी वजह से इसे खाने के बाद शरीर के भूख पर इस केमिकल का बहुत गहरा असर होता है और फिर खाने के इच्छा में कमी की समस्या शुरू हो जाती है। भूख न लगने के चलते शारीरिक निर्माण पर बहुत गहरा असर होता है। इसी विषय में आपके  लिए आप तक कुछ आयुर्वेदिक दवाओं को लेकर उपस्थित हुए हैं।

1. Dizomap (डीजोमैप) है bhukh badhane ki dawa

भूख तेज करने की यह आयुर्वेदिक दवा वाकई में कारगर है जो अक्सर डॉक्टर्स के द्वारा सलाह में उपयोग करने के लिए कही जाती है। इसकी एक पैकेट आपको मात्र 160 रुपये में ही मिल जाएगी। इसका इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है।

डीजोमैप की मदद से आप अपने भूख को बढ़ाने में एक सफलता प्राप्त कर सकते हैं। इससे पहले आप इसका इस्तेमाल करें हम आपको इसे इस्तेमाल करने के तरीके के बारे और इसके बारे में पूर्ण रूप से बताना चाहेंगे।

ये bhukh badhane ki tablet आपके मर चुके भूख को तीव्र करने के लिए जानी जाती है। यह हर तरह के पाचन सम्बन्धी विकारों को ठीक करने के लिए भी उपयोग के जा सकती है।

  • डिज़ोमैप 6 प्रकार की औषधि का कॉम्बिनेशन (Combination)  है जो किसी भी तरह के कब्ज को आसानी से ठीक कर सकता है जिससे फसा हुआ खाना आसानी से पच जाता है और आपके भूख में इजाफा होता है।
  • यह शरीर और पाचनतंत्र को बिना नुकसान पहुंचाए अपना कार्य करता है, अर्थात इसका शरीर पर कोई साइडइ फ़ेक्ट नहीं पड़ता है।
  • डाईजेसटिव जूस (Digestive Juice) और बैल जूस (Bile juice) के स्राव को तेज  करता है जिससे मेटाबोलिज्म (Metabolism) तेज हो जाती है और भूख में वृद्धि होती है।
  • शरीर में खाना में मौजूद प्रोटीन्स आदि पोषक तत्वों को शरीर में सही तरह से अवशोषित करने में मदद करता  है।
  • आज की जीवनशैली में हम फैटी (Fatty), मसालेदार, संरक्षित, रेफ्रिजेरेटेड (Refrigerated) खाद्य पदार्थ और मजबूत मसालों को इस्तेमाल करते हैं। डिज़ोमैप उन लोगों में पाचन विकारों को प्रभावी ढंग से सुधारता है जो नियमित रूप से इसका उपभोग करते हैं ताकि कोई भी आज के जीवन के स्वाद का आनंद आसानी से ले सके।

इसका सेवन किस तरह से करें ?

इसे खाना खाने के बाद या खाना खाने के पहले एक टेबलेट सुबह, शाम और दोपहर को खा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- 

2. लिवोमैप – Livomap

bhukh badhane ki dawa में इस syrup को इस्तेमाल में लाना बहुत किफायती होगा। यह delhi AIIMS में रिसर्च की गई है। तो चलिए इसके बारे में खास बात जानते हैं और लिवोमैप को इस्तेमाल कररने के तरीके को भी जानेंगे। भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा

यह खाने की इच्छा वर्धक सिरप का कार्य करती है और आपके भूख को बढ़ाने का कार्य करती है। इसका नियमित सेवन आपके भूख को काफी ज्यादा कर सकेगा।

  • लिवोमैप में कई ऐसे घटक शामिल किये गए हैं जो आपके लीवर को पूर्ण रूप से स्वस्थ रखते हैं मतलब इनमें कुछ ऐसे तत्व शामिल हैं जो आपके शरीर में मौजूद लीवर को कई तरह के toxins से बचाए रखते हैं और आपके लीवर की सुरक्षा करते हैं। ये तत्व भूख भी बढ़ाते हैं।
  • यह लीवर में gallstone होने से रोकता है और लीवर को साफ कर खाने की इच्छा को तीव्र करता है।
  • किडनी को स्वस्थ रखता है और पीलिया दूर करता है।

3. पंचासव सिरप

पाचन तंत्र दुरुस्त रखने के लिए वैद्यनाथ का पंचासव सिरप वर्षों से उपयोग होता आ रहा है। इसे विशेष तौर पर इस लिए निर्मित किया गया है ताकि यह पेट में होने वाले गैस और अपच का इलाज कर आपके पेट को अच्छी तरह से खोल कर पेट में मौजूद Waste और toxins को आसानी से बाहर किया जा सके और आपके भूख (Appetite) में वृद्धि किया जा सके। भूख तीव्र करने कि यह आयुर्वेदिक दावा वाकई में बहुत कारगर है जो कई तरह से लाभ से परिचित कराती है। तो चलिए इसके इस्तेमाल करने के तरीके के बारे में जानते हैं।

bhukh badhane ki dawa (पंचासव सिरप) के 4 ढक्कन मात्रा को एक कप पानी में मिलाकर दिन में 3 से 4 बार पीएं। या आप अपने डॉक्टर के बताए गए तरीके के अनुसार इसका सेवन कर सकते हैं। भूख बढ़ाने में कारगर यह सिरप शरीर पर किसी तरह के दुष्प्रभाव को नही साझा करती है।

4. झंडू पंचारिष्ट

यह  90 के दशक से ही भूख बढ़ाने और तनाव दूर करने के लिए उपयोग होती चली आ रही है। यह भूख वृद्धि के साथ-साथ रक्त शुद्धि का काम भी करती है। इसका सेवन करना अत्यंत सरल है इसका सेवन करने के लिए आप नीचे दिए गए टिप्स को फॉलो करें।

झंडू पंचारिष्ट को कैसे उपयोग करें

इसे उपयोग में लाने के लिए आप इसकी एक ढक्कन सिरप को खाना खाने के पहले और बाद में तीन टाइम ले। इसके अलावा आप इसकी खुराक मेडिकल स्टोर में दवाई लेते समय पूछ सकते हैं।

bhukh badhane ki dawa में यह पोस्ट आपको कैसी लगी हमें जरूर बताएं|

Default image
Sarthak upadhyay
Sarthak upadhyay is a health blogger and creative writer, who loves to explore various facts, ideas, and aspects of life and pen them down. sarthak is known with English and hindi. Writing is his passion, and enjoys writing on a vast variety of subjects. Relationship, Astrology, and entertainment, Periods, pregnancy, and Home-remedies are his specialty areas.

Leave a Reply