भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा

भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा, सीरप,और टेबलेट – bhukh badhane ki dawa

Posted on

प्रेजेंट टाइम में देखा जाए तो अनाज की खेती के दौरान कई तरह के ऐसे कीटाणुनाशक और आनाज्र वृद्धक केमिकल का उपयोग होता है जिसकी वजह से इसे खाने के बाद शरीर के भूख पर इस केमिकल का बहुत गहरा असर होता है और फिर खाने के इच्छा में कमी की समस्या शुरू हो जाती है। भूख न लगने के चलते शारीरिक निर्माण पर बहुत गहरा असर होता है। इसी विषय में आपके  लिए आप तक कुछ आयुर्वेदिक दवाओं को लेकर उपस्थित हुए हैं। भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा, सीरप,और टेबलेट – bhukh badhane ki dawa

 

1. Dizomap (डीजोमैप)

भूख तेज करने के लिए यह आयुर्वेदिक दवा वाकई में कारगर है जो अक्सर डॉक्टर्स के द्वारा सलाह में उपयोग करने के लिए कही जाती है। इसकी एक पैकेट आपको मात्र 160 रूपये में ही मिल जाएगी। इसका इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है।

डीजोमैप की मदद से आप अपने भूख को बढ़ाने में एक सफलता प्राप्त कर सकते हैं। इससे पहले आप इसका इस्तेमाल करें हम आपको इसे इस्तेमाल करने के तरीके के बारे और इसके बारे में पूर्ण रूप से बताना चाहेंगे।

डीजोमैप का कार्य क्या है?

यह टेबलेट आपके मर चुके भूख को तीव्र करने के लिए जानी जाती है। यह हर तरह के पाचन सम्बन्धी विकारों को ठीक करने के लिए भी उपयोग के जा सकती है।

इस दवा को खाने के अन्य लाभ 

  • डिज़ोमैप 6 प्रकार की औषधि का कॉम्बिनेशन  है जो किसी भी तरह के कब्ज को आसानी से ठीक कर सकता है जिससे फसा हुआ खाना आसानी से डाइजेस्ट हो जाता है और आपके भूख में इजाफा होता है।
  • यह शरीर और पाचनतंत्र को बिना नुकसान पहुंचाए अपना कार्य करता है, अर्थार्त इसका शरीर पर कोई साइडइ फ़ेक्ट नहीं पड़ता है।
  • डाईजेसटिव जूस और बैल जूस के स्राव को तेज  करता है जिससे मेटाबोलिज्म तेज हो जाती है और भूख में वृद्धि होती है।
  • शरीर में खाना में मौजूद प्रोटीन्स आदि पोषक तत्वों को शरीर में सही तरह से एब्जोर्ब करने में मदद करता  है।
  • आज की जीवनशैली में हम फैटी, मसालेदार, संरक्षित, रेफ्रिजेरेटेड खाद्य पदार्थ और मजबूत मसालों को इस्तेमाल करते हैं। डिज़ोमैप उन लोगों में पाचन विकारों को प्रभावी ढंग से सुधारता है जो नियमित रूप से इसका उपभोग करते हैं ताकि कोई भी आज के जीवन के स्वादों का आनंद आसानी से ले सके। भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा, सीरप,और टेबलेट – bhukh badhane ki dawa

इसका सेवन किस तरह से करें ?

इसे खाना खाने के बाद या खाना खाने के पहले एक टेबलेट सुबह, शाम और दोपहर को खा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- 

2. लिवोमैप

भूख बढ़ाने के लिए इस सिरप को इस्तेमाल में लाना बहुत किफायती होगा। यह delhi AIIMS में रिसर्च की गई है। तो चलिए इसके बारे में खास बात जानते हैं और लिवोमैप को इस्तेमाल कररने के तरीके को भी जानेंगे। भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा

लिवोमैप का कार्य क्या है?

यह खाने की इच्छा वर्धक सिरप का कार्य करती है और आपके भूख को बढ़ाने का कार्य करती है। इसका नियमित सेवन आपके भूख को काफी ज्यादा कर सकेगा।

livomap के अन्य लाभ

  • लिवोमैप में कई ऐसे घटक शामिल किये गए हैं जो आपके लीवर को पूर्ण रूप से स्वस्थ रखते हैं मतलब इनमे कुछ ऐसे तत्व शामिल हैं जो आपके शरीर मे मौजूद लीवर को कई तरह के टोक्सिन से बचाए रखते हैं और आपके लीवर की सुरक्षा करते हैं। ये तत्व भूख भी बढ़ाते हैं। भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा
  • यह लीवर में gall stone होने से रोकता है और लीवर को साफ कर खाने की इच्छा को तीव्र करता है।
  • किडनी को स्वस्थ रखता है और पीलिया दूर करता है।

3. पंचासव सिरप

पाचन तंत्र दुरुस्त रखने के लिए बैद्यनाथ का पंचासव सिरप वर्षों से उपयोग होता आ रहा है। इसे विशेष तौर पर इस लिए निर्मित किया गया है ताकि यह पेट में होने वाले गैस और अपच का इलाज कर आपके पेट को अच्छी तरह से खोल कर पेट में मौजूद वेस्ट और टोक्सिन को आसानी से बाहर किआ जा सके और आपके एपेटाइट में वृद्धि किया जा सके। भूख तीव्र करने कि यह आयुर्वेदिक दावा वाकी में बहुत कारगर है जो कई तरह से लाभ से परिचित कराती है। तो चलिए इसके इस्तेमाल करने के तरीके के बारे में जानते हैं। भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा, सीरप,और टेबलेट – bhukh badhane ki dawa

भूख बढ़ाने कि आयुर्वेदिक सिरप पंचासव को उपयोग में कैसे लाएं?

पंचासव सिरप के 4 ढक्कन मात्रा को एक कप पानी में मिलाकर दिन में 3 से 4 बार पियें। या आप अपने डॉक्टर के बताए गए तरीके के अनुसार इसका सेवन कर सकते हैं। भूख बढ़ाने में कारगर यह सिरप शरीर पर किसी तरह के दुष्प्रभाव को नही साझा करती है।

4. झंडू पंचारिष्ट

यह  90 के दशक से ही भूख बढ़ाने और तनाव दूर करने के लिए उपयोग होती चली आ रही है। यह भूख वृद्धि के साथ-साथ रक्त शुद्धि का काम भी करती है। इसका सेवन करना अत्यंत सरल है इसका सेवन करने के लिए आप नीचे दिए गए टिप्स को फॉलो करें।

झंडू पंचारिष्ट को कैसे उपयोग करे

इसे उपयोग में लाने के लिए आप इसकी एक धकान सिरप को खाना खाने के पहले और बाद में तीन टाइम ले। इसके अलावा आप इसकी खुराक मेडिकल स्टोर में दवाई लेते समय पूँछ सकते हैं।

भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा, सीरप,और टेबलेट – bhukh badhane ki dawa

 

Gravatar Image
Sarthak Upadhyay is a health blogger and creative writer, who loves to explore various facts, ideas, and aspects of life and pen them down. The whole site is managed by him. Writing is his passion and enjoys writing on a vast variety of subjects. Periods, pregnancy, and Home-remedies are his specialty areas.

19 thoughts on “भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा, सीरप,और टेबलेट – bhukh badhane ki dawa

  1. Sir meri age 22 h pr m bhut dubli Patli hu like 12 ya 13 saal ki bachi Jese mujh bhuk bhi nhi lgti please kuch suugest kre m kya kru .

      1. सर कुछ लोग बताते हैं कि टेबलेट खाओगे तब तक ठीक
        बंद करने के बाद में पहले से भी कमजोर हो जाओगे
        ऐसा होता है क्या?

        1. ऐसा नहीं होता है| और आप भूख बढ़ने की दवा खाएंगे तो वैसे भी सिर्फ आपकी भूँख बढ़ेगी|

  2. Sir main khata bahut hu aur mehnat bhi bahut karta hu lekin mera sharir bahut dubla hai jisse mujhe bahut nirasha hoti hai kripya margdarshan karen

    1. दीप जी अगर आप hastmaithu*n करते हैं तो न करें| इस वजह से भी यह समस्या हो सकती है| और खाना को पचा कर खाएँ| आप सतावरी पाउडर यूज करें| साथ में पंचासव सिरप खाना पचाने के लिए उपयोग करें|

    1. आपका खाना पचता नहीं होगा| आप पंचास्व सिरप पियें और साथ में मास गेनर मसल बिल्डर यूज करें|

    2. आपका खाना पचता नहीं होगा| आप पंचासव सिरप पियें और साथ में मास गेनर मसल बिल्डर यूज करें|

    1. आप शराब न पियें| और धीरे-धीरे कर के अपनी भूख बढ़ें बढ़ जाएगी| इसके लिए आप livomap use kare.

    1. आप कोई एक दवा शुरू कर दें| साथ में सतावरी टेबलेट को इस्तेमाल करना चालू कर दें| सब नार्मल हो जाएगा|

    1. ऊपर बताई गई किसी भी दवा को आप यूज कर लें। सभी वाराणसी के किसी भी मेडिकल स्टोर में आपको आसानी से मिल जाएंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *