दांत दर्द का कारण, घरेलू इलाज, और दवा – daant dard ka ilaj

दांतों का दर्द एक आम दर्द हो गया है जिससे आजकल हर व्यक्ति परेशान है। दांत के दर्द के दौरान भोजन करने में भी परेशानी होती है। दांतों का सही से देखभाल न करने पर या फिर दांतों में कीड़े लग जाने पर दांत दर्द की समस्या होती है। दांत दर्द के कई कारण हो सकते हैं। daant dard ka ilaj आप घरेलू उपायों की मदद से भी कर सकते हैं। आज हम आपको दांत दर्द से छुटकारा पाने के लिए घरेलू इलाज और कुछ अंग्रेजी दवाइयों के बारे में बताएँगे।

दांत दर्द के कारण – daant dard ke karan

  • दांत में कीड़े पड़ना दांत दर्द का मुख्य कारण है।
  • अगर आपके दांत में घाव लगे हैं तो इससे भी दांत दर्द हो सकता है।
  • रोजाना दांतों की सफाई न करने से भी दांत दर्द होता है।
  • जोर-जोर से दांतों को पिसने से भी दांत दर्द  होने लगता है। दांत पिसने से हमारे मसूड़े कमजोर होते हैं जिससे दांतों में दर्द उठता है।
  • अगर आपके दांतों में कैविटी है तो यह भी दांत दर्द का एक कारण हो सकता है।
  • मसूड़ों में इन्फेक्शन होना भी दांत दर्द का मुख्य कारण है।
  • ठंडा खाने के बाद तुरंत गर्म खा लेने से भी दांत दर्द शुरू हो जाता है।
  • दांतों के बीच खाना फंस जाने से भी दर्द उत्पन्न होता है।
  • किसी दवाई का रिएक्शन।

दांत दर्द के घरेलू इलाज – daant dard ka ilaj

बर्फ करे दांत दर्द दूर

दांतों में तेज दर्द उत्पन्न हो रहा है तो बर्फ का सहारा लिया जा सकता है। इसके लिए बर्फ के छोटे-छोटे टुकड़ों को किसी सूती कपड़ा में रखें और दर्द दे रहे दांत में 15 से 20 मिनट तक के लिए रखें। कुछ ही देर बाद दर्द गायब हो जायेगा। अगर ठंडा पानी पीने के वजह से दांतों में दर्द उत्पन्न हुआ है तो, इस नुस्खे को प्रयोग में न लाएं।

पढ़ें – दांत दर्द की दवा

लौंग है दांत दर्द का घरेलू इलाज

daant dard ka ilaj- अगर आपको दांत के दर्द ने जकड़ रखा है है तो लौंग को इस्तेमाल में लाएं। इसके लिए लोग को करीब पांच मिनट तक उस जगह दबाकर रखें जहाँ दांत में दांत में दर्द हो रहा है। लौंग में मौजूद तत्व दर्द को कम करने में सहायक होते हैं और यह दांतों में पल रहे खतरनाक बैक्टीरिया को भी मार देता है।  

प्याज को उपयोग में लाए

जब दांत दर्द की बात आती है तो प्याज का नाम जरूर आता है, क्योंकि यह दांत के दर्द के लिए एक रामबाण इलाज है। बस आप प्याज के छोटे-छोटे टुकड़ों को दर्द वाले दांत पर रखें और ज्यादा अधिक दर्द हो तो दांतो से प्याज को चबाएं यह एक बहुत ही फायदेमंद और दांत दर्द का घरेलू इलाज है जिससे दर्द गायब हो जाता है।

लहसुन की मदद ले

daant dard ka ilaj – लहसुन एक आयुर्वेदिक और घरेलू तरीका है जिससे दांत का दर्द तुरंत ही चला जाता है। इसके लिए आप लहसुन की 4 से 5 कलियाँ ले और चबा लें। ऐसा करने के कुछ ही देर बाद दांत दर्द गायब हो जाएगा। अगर दांतों में कीड़े लगे हैं तो लहसुन से इसका भी इलाज हो सकता है।

आम के पत्तों का पेस्ट

आप अगर दांत दर्द से ग्रसित है तो कुछ आम के पत्ते लीजिए उसका पेस्ट बना लीजिए। पेस्ट को प्रभावित दांत में लगाकर मालिश करिए। इससे दर्द खत्म हो जाएगा। यह घरेलू इलाज दांत दर्द में बहुत फायदेमंद है और ज्यादातर लोग इस इलाज को नहीं जानते।

हींग और सरसों का तेल है फायदेमंद

अगर आपका दांत दर्द दे रहा हो तो इधर-उधर भागने की जरूरत नहीं है, बस हींग के पाउडर को सरसों के तेल में अच्छी तरह से मिला लें और फिर अपने दांत और मसूड़ों में अच्छे से मालिश करें। ऐसा करने से तुरंत दर्द गायब हो जाएगा और आप अच्छा महसूस करेंगे।

पानी और नमक का करें बेफिक्र इस्तेमाल

अगर आप खतरनाक दांत दर्द से परेशान हो रहे हैं, तो ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं है। बस आपको पानी को हल्का गर्म करना है और फिर उसमें नमक मिलाकर कुल्ला करना है। ऐसा तब तक करते रहें जब तक दर्द दूर नहीं होता। नमक दांत दर्द दूर करने के लिए सबसे अच्छे उपायों में से एक है।

अमरूद के पत्तों का करें इस्तेमाल

अगर आप भी दांत के दर्द से परेशान हो रहे हैं, तो आप अमरूद के पत्तों का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए 6 से 7 अमरूद के पत्तों को अच्छी तरह उबाल लें। उसके बाद उसमें अपने अनुसार नमक डालें, पानी को थोड़ा ठंडा करने के बाद कुल्ला करें। अमरुद के पानी से कुल्ला करने पर दांत दर्द की शिकायत दूर हो जाती है।

नमक और लहसुन का पेस्ट

नमक और लहसुन से बने हुए पेस्ट को दांत में कुछ देर तक रखने से भी दांत के असहनीय दर्द से राहत मिल जाती है। यह बहुत ही कारगर नुस्खा है जिसका इस्तेमाल 10 मिनट के भीतर ही आपको आराम दिलाता है। इसके लिए आप लहसुन को बारीक पीस लें और उसमें नमक मिलाकर दर्द से प्रभावित जगह पर रखें।

इस नेचुरल घरेलू तरीके के कोई भी नुकसान नहीं हैं इसलिए जब भी दांतों में असहनीय पीड़ा हो, तो इस तरीके का इस्तेमाल  करें। इससे daant dard ka ilaj आसानी से कर सकता है.

जामुन के पेड़ की छाल

जामुन के पेड़ की छाल का बना हुआ काढ़ा दांत के दर्द को खत्म करने के लिए बेहतर माना जाता है। इसके लिए आप पानी में जामुन की छाल को अच्छी तरह से उबाल लें और जब पानी का रंग पूरी तरह से बदल जाए तो उसी पानी से कुल्ला करें। इस घरेलू इलाज से आपको कुछ ही मिनट में दांत के दर्द से आराम मिल जाएगा।

जामुन के पत्ते

जामुन के पत्तों में कई ऐसे जीवाणु पाए जाते हैं जो दांत में लगे कैविटी को खत्म करने में मददगार होते हैं। इससे आपके दांतों में लगी कैविटी खत्म हो जाती है और आपको दांत के दर्द से आराम मिल जाता है। इसके लिए आप जामुन के पत्तों को मुंह में अच्छी तरह से चबाएं। 5 से 10 मिनट बाद आप इसे कुल्ला कर दें।

जामफल (अमरुद) के छाल व पत्ते

दांत के सहनीय दर्द के लिए इसका उपयोग बहुत ही बेहतर होता है। इसकी मदद से आप अपने आपको बड़े ही आसानी से दांत के दर्द से छुटकारा दिला सकते हैं।

इसके लिए आप जामफल (अमरुद) के पत्तों को चबाए और थूक दें। इसके अलावा भी आप जामफल के छाल को पानी में उबाल कर इसका काढ़ा बना लें और काढ़े से कुल्ला करें।

डॉक्टर से मिलें

हलांकि ऊपर बताए गए तरीके के मदद से आप बड़े ही आसानी से अपने दांत में होने वाले दर्द को दबा सकते हैं। लेकिन, इन उपाय भर की मदद से आप हमेशा के लिए अपने दांत में होने वाले दर्द से छुटकारा नहीं पा सकते हैं। इसके लिए यह आवश्यक हो जाता है कि आप हमेशा के लिए अपने दांत के दर्द को किस तरह से ठीक करें।

इसके लिए आपको डॉक्टर के पास जाना होगा और उचित तरीके से इलाज करना होगा। इसके लिए डॉक्टर कुछ चीजें कर सकते हैं जो नीचे दी हुई है।

  1. आपको कुछ दिनों के लिए दवाइयाँ मुहैया कराया जाएगा। और निश्चित डेट पर आपको फिर से अस्पताल जाने की अनुमति दी जाएगी। कई लोगों को दवाइयों के खुराक से ही आराम हो जाता है अगर नहीं होता तो प्रोसेस आगे बढ़ाई जाती है।
  2. अब आपके दांतों की जांच सही तरीके से के जाती है। इसके लिए अस्पताल में डॉक्टर रेडियोग्राफी, टोमोग्राफी और एक्स-रे के सहायता लेते हैं। साथ में आपके दांत से जुड़े हुए अन्य अंगों पर भी नजर डालते हैं।
  3. अब आपके दांत में होने वाले दर्द के कारण को पता लगाकर उचित इलाज किया जाता है।
  4. अगर इलाज से बात नहीं बनती है तो आपके दांतों को ट्रांसप्लांट कर दिया जाता है।

दांत दर्द के निदान के बाद खान-पान का तरीका – dant dard me kya khaye

दांत दर्द के निदान और daant dard ka ilaj हो जाने के बाद आपको खाने में विशेष ध्यान देना होगा। इसके लिए आपको लाइट फ़ूड को चयन करना पड़ेगा जिससे आपके दांत को ज्यादा धक्का न हो। क्योंकि दांत के ऑपरेशन के बाद दांत को लगभग महीने भर सहूलियत से रखना पड़ता है। इसके लिए आप नीचे दिए गए पदार्थों की हे चयन करें।

सूप –

दांत दर्द के इलाज के बाद आपके लिए सूप एक बहुत ही बेहतर खाद्य है। यह आसानी से आपके पेट तक दांत को बिना डिस्टर्ब किए चला जाएगा।

 कौन से सूप का चयन करें ?
  1. हरी सब्जियों के मिक्स सूप अच्छा रहेगा जो पौष्टिक भी होगा और दांतों के लिए पोषण देने में मददगार होगा।
  2. चिकन का बना हुआ ताजा सूप। लेकिन, चिकन के सूप को ज्यादा खाने से बचें।
  3. फिश का बना हुआ सूप लेकिन इसका सेवन कम ही करें।

उबली हुई आलू

यह आपके दांत को किसी भी तरह का धक्का नहीं देगी और आपके दांत में हो रहे संजीदा दर्द के में खाने के लिए सहूलियत होगी। इसे खाने से आपको थकान भी महसूस नहीं होगी और आपके दांत को यह किसी भी तरह का क्षति भी नहीं पहुंचाएगा।

सैंडविच का इस्तेमाल

हालांकि इसकी गिनती फास्ट फ़ूड में की जाती है लेकिन, इसका इस्तेमाल करना अपको सहूलियत प्रदान करेगा। यह crusty होता है। इसे healthy बनाने के लिए आप मूंगफली का मक्खन, दही और भी कई चीजें इसके सेवन के दौरान शामिल कर सकते हैं।

छांछ

छांछ और दही दांत दर्द के दौरान आसानी से निग्ल्ली जा सकती हैं जिससे दांतों में किसी भी तरह का धक्का नहीं होगा। साथ हे छांछ में कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो कमजोरी नहीं महसूस होने देते हैं।

सावधानियां

  • दांत दर्द से जल्द ही निजात पाना है तो धूम्रपान ना करें।
  • दांत में जमें कचरों को निकालते रहे।
  • अगर आपको कभी भी दांत दर्द आता है तो डॉक्टर की भी सलाह लें।
  • दांत दर्द में किसी इन्फेक्शन वाली दवाइयों का इस्तेमाल ना करें क्योंकि इन्फेक्शन वाली दवाइयों का इस्तेमाल करने से आपको इन्फेक्शन भी हो सकता है।

इस तरह से आज हम daant dard ka ilaj बारे में बहुत कुछ जान चुके हैं जिसकी मदद से दन्त के दर्द का इलाज कर पाना बहुत आसान हो गया है। अगर आपको अपने दांतों से संबंधित या किसी भी स्वास्थ्य से संबंधित जानकारी चाहिए तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में अपना कमेंट लिखकर कमेंट को फॉलो करें। या आप हमारे स्वास्थ्य फोरम में भी सवाल पूछ सकते हैं।

Default image
Sarthak upadhyay
Sarthak upadhyay is a health blogger and creative writer, who loves to explore various facts, ideas, and aspects of life and pen them down. sarthak is known with English and hindi. Writing is his passion, and enjoys writing on a vast variety of subjects. Relationship, Astrology, and entertainment, Periods, pregnancy, and Home-remedies are his specialty areas.

Leave a Reply