पेट में गैस की दवा और 12 रामबाण इलाज – pet me gas ki dawa tablet aur ilaj

Gas ki tablet dawai ilaj– गैस से न केवल शरीर कई रोगों के आधीन हो जाता  है बल्कि, इससे समाज से मनुष्य की दूरियां बढ़ने लगती हैं और लोग अक्सर गैस के चलते किसी दूसरे व्यक्ति के लिए हँसी बनकर रह जाता है| गैस्ट्रिक समस्या होने पर पेट में उफान वाली असहनीय पीड़ा को सहन करने से अच्छा लगता है की मौत ही आ जाए| इन बातों को मद्दे नजर रखते हुए हमने सोचा है की आज हम आपको “pet me gas ki dawa” या पेट में गैस की दवा,  गैस का इलाज “or” gas ka ilaj को  क्यों  न बता दिया जाए |

इसके पहले हम आपको इसकी टेबलेट के बारे में बताना शुरू करें या इसका इलाज बताएं यह जान लेना जरूरी है की अगर गैस्ट्रिक प्रॉब्लम को ध्यान नहीं दिया जाए तो किन-किन समस्याओं को झेलना पड़ सकता है| तो उत्तर है- अगर आप गैस्ट्रिक प्रॉब्लम से खुद को नहीं सेफ करते हैं तो इससे आपके आंत और पेट के भीटर तरह-तरह की गैस उत्पन्न होंगी जो आपके स्वास्थ्य को पूर्ण रूप से नष्ट देंगी और आपको किडनी और साँस सम्बंधित रोग दे देंगी| इसलिए अगर gstric प्रॉब्लम से आप उलझते हुए नजर आ  रहे हैं तो आप इसका इलाज करना अपना सबसे प्राथमिक कर्तव्य समझें अन्यथा इससे आपकी जान भी जा सकती है| इन सबको  ख़याल में लेते हुए आज हम आपको gas ki tablet  या gas ka ilaj के  बारे में बताएंगे|

gas ki dawa में नीचे हम आपको कुछ आयुर्वेदिक और अंग्रेजी दवाइयों के बारे में बताएंगे जिनसे आप गैस से उसी समय राहत पा सकेंगे| इसके साथ gas ka ilaj के लिए हम आपको कुछ घरेलू नुस्खे से भी परिचित कराएंगे जो आपके गैस्ट्रिक प्रॉब्लम को दूर करना में अपना बेहतर योगदान निभाएंगे|

यह भी पढ़ें- 

पेट में गैस के लिए  अंग्रजी gas ki dawa

Note-  all the given allopathic medicines must be taken under the direction of a chemist. so, please have a talk with your doctor/ chemist to intake the dosage.

Ranitidine pill for gas ki dawa

Ranitidine pill को आप एक बेहतर गैस की दवा के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं| यह एक बेहतर gas ki tablet है जो अपना कार्य 1 घंटे के भीतर ही कर देती है| अगर आप भयंकर गैस की समस्या से जूझ रहे हैं और आपको तुरंत एक सख्त इलाज की जरूरत है तो आप तुरंत ही इसका सेवन डॉक्टर के निर्देश से करें| gas ki यह dawa वाकई में अपना कार्य बखूबी निभाती है और आपको एक बेहतर आराम से परिचित कराती है| बस ध्यान दें की आप इसकी डोज डॉक्टर या केमिस्ट की मदद से ही तय करें|

Pantodac DSR tablet for gastric tablet

पेट में गैस का इलाज दवा से करने के लिए pentodac DSR tablet को काफी ज्यादा इस्तेमाल में लाया जाता है| अपने भारत के डॉक्टर अक्सर गैस की समस्या होने पर इसे इस्तेमाल करने की सलाह देते हैं| gas ki dawa में यह दवा आपके पेट में एसिड के उपज को कम करती है और उसके चलते होने वाले गैस से आसानी से राहत दिलाती है| इससे पेट का दर्द भिओ गायब किया जा सकता है| इसलिए इसका इस्तेमाल पेट में जलन, और पेट के दर्द के लिए भी किया जा सकता है|  gas ki tablet में इस टेबलेट का सेवन आप अपने डॉक्टर या केमिस्ट के सलाह पर ही करें| क्यूंकि वो ही आपकी उम्र और आपकी स्थिति को अपनी आँखों से देखकर आपका सही इलाज कर पाने में सक्षम है|

pantorol – 40 को उपयोग करें gas ki tablet ke lie 

gas ki dawa, gas ki tablet

पेट में छाले होने पर, पेट में गैस की समस्या होने पर और दर्द होने पर इस टेबलेट को उपयोग में लाना आपके लिए बहुत बेहतर साबित होगा जो आपको आसानी से gas ki samsya से दूर कर सकता है| डॉक्टर्स की माने तो यह टेबलेट पेट के भीतर एसिड के अधिकता के चलते होने वाले उफनाव को आसानी से कुछ ही मिनट में खत्म कर सकता है जो आपको एक घंटे के भीतर ही असहनीय और दर्दनाक गैस की समस्या से निजात दिलाएगा| gas ki dawa में इस दवा को उपयोग करने से आप आसानी से गैस का इलाज कर सकते हैं| बस इसका डोज अपने से तय न करे| डोज का सही पता लगाने के लिए आप अपने डॉक्टर से या फिर अपने केमिस्ट से सही सलाह लें| अपने से तय किया गया gas ki dawa का डोज कोई समस्या पैदा कर सकता है|

gas ki dawa में तुरंत इलाज करता है ENO और GAS-O-FAST

ENO का घोल बनाकर पीने से आपको 10 मिनट के भीतर ही गैस की समस्या से आसानी से छुटकारा मिल जाएगा| यह गैस से राहत दिलाने में सबसे बेहतर कार्य करता है जो आपको आसानी से बाजार में उपलब्ध हो जाएगा| इसकी एक पैकेट को एक गिलास पानी में डालकर तुरंत ही पीने से बहुत बेहतर राहत मिलती है| ठीक इसी तरह GAS-O-FAST  भी अपना कार्य बखूभी निभाता है और gas ki tablet की तरह इंस्टेंट फायदा देता है| इसे इस्तेमाल करने के लिए आपको डॉक्टर के सलाह की कोई भी जरूरत नहीं है| आसानी से आप इसका इस्तेमाल अपने गैस्ट्रिक प्रॉब्लम को ठीक करने के लिए बिना किसी डर के कर सकते हैं| बस ध्यान यह दें की जैसे ही आप इसका घोल बनाए इसके उफान के साथ ही इसे गटक लें|

GASTRIC TROUBLE AND FLATULENCE एक पतंजलि उत्पाद

GASTRIC-TROUBLE-AND-FLATULENCE-gas-ki-dawa

पतंजली द्वारा निर्मित यह उत्पाद पेट में गैस, जलन और दर्द जैसी समस्याओं से निपटने के लिए ही तैयार की गई है| इसा शरीर पर कोई भी तरह का दुष्प्रभाव नहीं होता है, इसके पीछे का कारण यह है की यह आयुर्वेद ढंग से बनाई गई है| इस टेबलेट को आप निर्भीक रूप से अपने gas ki tablet की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं| इस टेबलेट को इस्तेमाल करने के लिए तय डोज आपको केमिस्ट बेहतर ढंग से बता सकेंगे| gas ki dawa में इस दवा को आप अपने पास के किसी भी पतंजलि स्टोर से आसानी से प्राप्त कर सकते हैं| आयुर्वेदिक दवा आपको हमेशा के लिए गैस की समस्या से बहर कर देने में आपकी मदद कर सकती है|

पंचासव सिरप

बैद्यनाथ द्वारा निर्मित पंचास्व सिरप भी gas के समस्या को दूर करने का एक बेहतर कार्य करती है| यह गैस के साथ साथ आपको कब्ज की समस्या से भी मुक्ति दिलाने में आपकी मदद करती है| पंचाव सिरप का दो ढक्कन आधे कम पानी के साथ सुबह शाम और दोपहर को खाना खाने के बाद सेवन करने से आसानी से हमेशा के लिए गैस सम्बंधित की तरह के विकारों को दूर किया जा सकता है| gas ki dawa में यह टेबलेट अपना असर बखूबी दिखाती है जो वास्तव में एक सराहनीय रिजल्ट आप तक ले कर आती है|

पेट में गैस होने के हैं ये ख़ास लक्षण:

  • च्विंगम चबाते रहना|
  • चाय पीना, कॉफ़ी पीना, आदि कई तरह की वजह से|
  • हर वक्त तैलीय पदार्थों का सेवन करने से भी गैस सम्बंधित समस्या से गुजरना पड़ सकता है|
  • शाराब, स्मोक करना भी इस समस्या के लिए जिम्मेदार हैं|
  • न पचने योग्य सामाग्रियों का सेवन करना|
  • ज्यादा खाना खा लेना|
  • दूषित खान-पान|

गैस का इलाज करें इन आयुर्वेदिक तरीके के साथ:

ऊपर बताए गए सभी gas ki tablet की मदद से आप आसानी से गैस की समस्या को ठीक कर सकते हैं| लेकिन, नीचे भी कुछ ऐसे घरेलू उपाय को बताए जा रहे हैं जिन्हें आप अगर रेगुलर इस्तेमाल में लाते हैं तो इससे न तो आपके शरीर में कोई साइड-इफ़ेक्ट होगा और आप हर वक्त अपने आपको गैस की समस्या से बचाए रहेंगे| तो चलिए gas ki tablet के साथ पेट में  gas ka ilaj को भी जानते हैं|

  • खाना खाने के पहले और बाद में अजवाइन को काला नमक के साथ 2 चम्मच फांकने से गैस का इलाज निश्चित है|
  • गुनगुने पानी में एक बड़ा नीबू निचोड़ लें और उसमे एक चम्मच कला नमक मिलाकर पीने से भी gas ka ilaj हो जाता है|
  • गैस का घरेलू उपचार करने के लिए आप मेथी के बीज को पानी में भिगोकर उसका काढ़ा बनाकर पियें|
  • एलोवेरा का घरेलू जूस और एक कप में एक चम्मच त्रिफला पाउडर मिलाकर सेवन करने से आपको गैस का इलाज करना काफी आसान हो जाएगा| आप तुरंत गैस से राहत पाने के लिए gas ki dawa के तौर में इस तरीक का इस्टाल कर सकते हैं|
  • एप्पल साइडर वीनेगर एक चम्मच एक गिलास पानी में मिलाकर पीने सी भी गैस का इलाज आसान  है|
  • पेट में पानी के कमी से भी गैस की उत्पत्ति हो जाती है| यदि आप इस घातक सम्स्य से निजात पाने के लिए उत्सुक हैं तो आपको दिन भर में कम से कम 10 से 12 बड़े गिलास में पानी पीना चाहिए|
  • आमला चूर्ण और कला नमक मिलाकर एक साथ खाने से भी गैस का इलाज हो जाता है|
  • गैस का इलाज सही ढंग करने के लिए आपको गैस के कारणों पर ध्यान देना होगा और उससे दूर जाने को सोचना होगा| अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो मात्रा gas ki dawa और इसके इलाज की मदद से अपने आपको गैस की समस्या  से दूर नहीं कर सकते हैं| इसके साथ आप यह ध्यान दें की आप पाच जाने वाली खाद्य पदार्थों का ही सेवन करें| अगर आप पचने वाले पदार्थों का सेवन नहीं करते हैं तो इससे भी आपको गैस की समस्या उत्पन्न होती है जो किसी भी दवाई से कुछ ही समय के लिए ही ठीक रहेगी| मैदा का सेवन बिलकुल भी न करें| मैदा गैस के लिए एक भड़काऊ प्रोडक्ट का कार्य करता है|

टैग्स:- गैस का इलाज, गैस के आयुर्वेदिक उपाय, गैस की दवा, गैस से बचने का तरीका, गैस कैसे दूर करे, गैस से खुद को कैसे bachae, gas ka ilaj, gas ki dawa, gas se bachne ka tarika

lyfcure

Lyfcure specifically shares important information related to pregnancy, periods and home remedies. Lyfcure has introduced a lot of pregnancy and health related information to the whole people in 2018 who belongs to india and reads hindi. we are mot popular in India as a health consultant.

15 thoughts to “पेट में गैस की दवा और 12 रामबाण इलाज – pet me gas ki dawa tablet aur ilaj”

  1. महोदय,
    मेरे को काफी दिनों से पेट मे गुड़ गुड़ की आवाजें आरही है ।कभी कभी तो दर्द भी होता है ,भूख भी बहुत कम लगती है ।1 रोटी से ज्यादा नही कहा सकता।दर्द होता है तो eno लेने से दर्द चला तो जाता है पर आवाज कुछ देर बाद फिर सुरु हो जाती। उपाय बताए।।

    1. आप पंचासव सिरप यूज करें और आजवाइन और काला नमक रोज सुबह शाम पानी के साथ खाएं। खाना चबाकर खाएं और खाते समय ज्यादा पानी न पिएं। चोकरयुक्त आहार लें और न पचने वाला आहार और तेल मसाले आदि कम करें।

  2. Mujhe gass esiditi kafi Banti h or me kafi treat mant bhi kra chuka hu kuch fayda nehi h koi achchi tablet ya or koi Deway Ho to btaye plz

    1. आप खाना खाने के बाद तीनो टाइम पंचासव सिरप को 4 चम्मच की मात्रा में चार चम्मच पानी के साथ पियें| समस्या सही हो जाएगी| इसके साथ आप सर्वांगासन करें और अपना पेट हमेशा साफ़ रखें|

      अगर आपका पेट ज्यादा समय तक खाली रहता है तो इस वजह से भी पेट में गैस की समस्या हो सकती है|

  3. Sir hamari wife ko gas nahi nikalta hai pet bhari rahta hai pet mai dard jalan aur sarir mai jalan rahta hai pet kai bich mai bhari rahta hai koi dawa batlai

  4. Sir merit maa ko days dino she pet me jalan ,dard ,pet me hudhud krta h,pet bhari rahti h,kuchh pachta nhi h,hath pair thathrane lgta h,tutta h.sarir sun ho jata h,ghabraht baichaini ho jati h sir pls koi upaay btayie

    1. Aap panchasav use kariye. kana khane ke baad teeno time.. Aur ajvaain aur kaalanamak ko baraabar maatraa me lekr choorn bana le aur khana khane ke baad khilae….
      Inn 2 tarike ko use karie. 2 din me hi aaraam ho jaega..

  5. Sir mujhe kuch Dino se asidity ki problem hai. Khana khane ke kuch der ke bad seen me jalan va khatti dakare and lagti hai. Docter ko dikhaya to Dr.. ne omaz d capsules like di hai aap koi upchar bataye….

  6. पेट में गैस बनना खराब पाचन तंत्र की निशानी है। सेव का रस भी एक अच्छा इलाज है।

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *