lahsun ke fayde benefits in hindi garlic benefits

लहसुन के 25 लाजवाब फायदे, उपयोग विधि, सावधानी और नुकसान

Posted on

अगर आप हमसे फेसबुक में बात कर के सीधा जवाब पाना चाहते हैं तो नीचे दी गई contact us बटन पर क्लिक करें!

लहसुन से सभी लोग परिचित हैं। घरेलू मसाले के रूप में सदियों से इसका उपयोग होता रहा है। आयुर्वेद के ग्रंथों में लहसुन के गुणों का वर्णन है। प्राचीन यूनानी चिकित्सको का कथन है, कि लहसुन निश्चित रूप से धमनी को साफ करता है। रक्तदाब को ठीक करता है ।लहसुन में तीव्र गंध होती है। यह लिलिएसी कुल का पौधा है, जिसमें इतनी तीव्र गंध  होती है, कि लोग मजाक में कहते हैं कि, लिलिएसी के सभी पौधों का गंध इसी लहसुन में इकट्ठा कर दिया गया है। वनस्पति जगत का यह बड़ा ही तीव्र शरीर को साफ करने वाला पदार्थ है। आपकी शरीर से कीटाणु का नाश कर सकता हैं। इसके लगातार प्रयोग से गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल प्रणाली साफ रहती है। भारतीय शास्त्रों में ब्रहमचारी और सन्यासियों के लिए लहसुन का उपयोग करना वर्जित है। लहसुन का उपयोग वर्जित है, क्योंकि यह कामवासना को भड़काने वाला तामसिक आहार है।

लहसुन के गुण

लहसुन रसायन है। लहसुन की तासीर या प्रकृति गर्म होती है। इसमें अम्ल रस को छोंड़कर अन्य सभी रस पाए जाते हैं। यह भूख को बढ़ाने वाला और पाचक होता है। इसका नियमित सेवन करने वाला पुरुष वृद्धावस्था में भी रोग से मुक्त रहता है। यह बुढ़ापे में होने वाली कई बीमारियों जैसे कि पेट के रोग, जोड़ों का दर्द, हाई BP आदि में विशेष उपयोगी होता हैं।

क्या लहसुन आपके लिए फायदेमंद हो सकती है

तो, चलिए जानते हैं आपके लिए लहसुन कितना अच्छा है? दरअसल, लहसुन में एलिसिन, सल्फर, जिंक और कैल्शियम जैसे कई और यौगिक मौजूद होते हैं, जिनके कई स्वास्थ्य लाभ, सौंदर्य लाभ के साथ-साथ एंटीबायोटिक और एंटीफंगल गुण भी हैं। यह सेलेनियम से भरपूर होता है। सेलेनियम कैंसर से लड़ने के लिए जाना जाता है और यह एंटीऑक्सिडेंट शक्ति को बढ़ावा देने के लिए शरीर में विटामिन ई के साथ काम करता है और त्वचा के कई समस्याओं को ठीक करता है। लहसुन में मौजूद सैलिसिलेट प्रोडक्ट रक्त को पतला करने का काम भी करता है।यह आपके ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाता है और शरीर में खून का प्रवाह सही रखता है।

इस तरह से इतने तत्व होने के चलते लहसुन अपने आप में एक बेहतर औषधि है जो हमें कई तरह से कई लाभ देता है।

लहसुन के फायदे:

lahsun ke fayde, benefits of garlic

ताकत बढ़ाने के लिए

लहसुन को पीसकर बराबर मात्रा में देसी घी मिलाकर, हल्का भुन ले और दुगनी मात्रा में मिश्री मिला लें, इसे दूध के साथ रोज लेने से शरीर में ताकत की वृद्धि होती हैं।                                         

रक्त का थक्का दूर करने में

रक्त में जब छोटे-छोटे क्लॉट से बनने लगते हैं तो यह हृदय की धमनियों को अवरुद्ध करता है जिससे दिल का दौरा पड़ता है, और ब्रेन की शिराओं को ब्लॉक करता है तब लकवा रोग होता है । रक्त के थक्का को घुलाने के लिए लहसुन का उपयोग किया जा सकता है। इसके लिए आप सुबह के वक्त खाली पेट लहसुन रोज लेने से रक्त में चिपकने की प्रवृत्ति कम हो जाती है और आप हृदय रोगों से बचे रह सकते है।

बच्चों के पेट में कीड़े पड़ने पर

लहसुन पेट में पड़े हुए कीड़ों को दूर करता है। यह कीड़ों का शत्रु है। पेट के कीड़ों को दूर करने के लिए लहसुन की छोटी कली को खाली पेट बच्चों को पानी के साथ खिलाइए। जिससे आपके बच्चे पेट में पड़े कीड़ों से राहत पा सकते हैं ।

जुखाम दूर करने में

लहसुन को एक पाव दूध के साथ उबालकर दूध और लहसुन दोनों को पी ले। जिससे आप जुखाम से जल्द ही राहत पा सकते हैं और स्वस्थ रह सकते हैं।

दांत दर्द दूर करने में

दांत दर्द को दूर करने के लिए एक लहसुन का पेस्ट बनाकर दर्द करने वाले दांत पर रखे, इससे दांत दर्द में आराम मिलता है।

जोड़ो का दर्द दूर करने में

लहसुन को सरसों के तेल में काला होंने तक उबाल ले और इस तेल से प्रतिदिन नहाने के पहले जोड़ो की मालिश करने से जोड़ो के दर्द में राहत मिलती है।

लहसुन के सेवन से हम ऑस्टियोपोरोसिस और गठिया जैसी कई हड्डियों से सम्बंधित समस्याएँ दूर कर सकते हैं।इतना ही नहीं लहसुन का सेवन हड्डियों को भी मजबूती प्रदान करता है और हड्डियों के घिसने के चलते हुए क्षति की पूर्ती करता है।

आप इसकी कच्ची कलियों का सेवन कर भी जोड़ों का दर्द दूर कर सकते हैं।

रक्त प्रवाह सही करता है

अगर आप अनियमित ब्लड सर्कुलेशन से प्रभावित हैं तो इसे आपकी जान भी जा सकती है। लेकिन, क्या आपको पता है की लहसुन के सेवन मात्र से आप अपने ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बना सकते हैं और इससे सम्बंधित कई समस्याओं को आसानी से दूर रख सकते हैं।

वजन कम करता है

लहसुन का नियमित सेवन वजन को कम कर सकता है। लहसुन में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो शरीर से कोलेस्ट्रोल कम करते हैं और जमे हुए फैट को घोलकर आपके वजन और मोटापे को आसानी से कम कर सकते हैं।

हाई ब्लड प्रेशर कम करता है

ब्लड प्रेशर कम करने में लहसुन को उपयोग किया जा सकता है। लहसुन में बायोएक्टिव सल्फ़र कंपाउंड और एस-एललिस्सीस्टीन काफी मात्रा में होते हैं जो आपके ब्लड प्रेशर को 10mmhg तक कम कर सकते हैं। कई बार ब्लड प्रेशर बढ़ जाने का कारण शरीर में सल्फर की कमी भी होती है। लहुसन का सेवन शरीर में सल्फर की कमी की पूर्ती करता है और हाई ब्लड प्रेशर को आसानी से कम कर सकता है।

डायबिटीज में होता है लाभदायक

चूहों के ऊपर एक शोध किया गया जिसमे चूहों को जरूरत जितना लहसुन की कलियाँ खिलाई गईं और कुछ दिनों बाद जब उनका हेल्थ चेकअप किया गया तो उनके शरीर में ग्लाइकोजन का स्तर बहुत कम पाया गया। इतना ही नहीं उनके शरीर में ट्राइग्लिसराइड लेवल काफी कम हो गया था। इस तरह से लहसुन डायबिटीज के लिए एक बढ़िया उपाय हो सकती है जो शुगर कम कर फायदा देती है।

दिल स्वस्थ रखती है लहसुन

लहसुन एक ऐसा उत्पाद है जो कई फायदे देता है, जिनमे से एक है यह शरीर में बुरे कोलेस्ट्रोल को ख़तम करता है और हृदय रोग से आपको राहत देता है। दिल की धडकनों का तेज हो जाना, हृदय में असहनीय दर्द और हृदयघात जैसी कई हृदय सम्बन्धी समस्याओं को लहसुन के सेवन मात्र से दूर किया जा सकता है।

इम्यून सिस्टम को बेहतर करता है

लहसुन में एंटी-ओक्सिडेंट भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं जो शरीर से विषाक्त पदार्थ बड़े ही आसानी से बाहर निकाल देते हैं। इसके साथ लहसुन की एंटी-बैक्टीरियल प्रॉपर्टी हमारे रोग-प्रतिरोधक क्षमता को कई गुना ज्यादा कर देती है।

लीवर स्वस्थ रखता है

लीवर में सूजन की समस्या होना या इसका सही से काम न करना आदि कई लीवर सम्बंधित समस्याओं में लहसुन का सेवन करने से लाभ मिलता है। लेकिन, अगर आपको पेट सम्बंधित समस्या है तो लहसुन का सेवन करने से बचना चाहिए।

कैंसर से करता है रक्षा

सैलेनियम एक कैंसर विरोधी तत्व है और यह तत्व लहसुन में भारी मात्रा में पाया जाता है। यह कैंसर सेल्स को पनपने से रोकता है और कोशिकाओं की वृद्धि को नियंत्रित कर हमें कैंसर से बचाने में यह बहुत मददगार हो सकता है।

फंगल इन्फेक्शन को दूर करता है

लहसुन में मौजूद एंटी-फंगल गुण आपको कई तरह के फंगल इन्फेक्शन से बचाने में काफी ज्यादा कारगर है। यह आपको दाद, खाद और खुजली जैसे कई आक्रामक फंगल इन्फेक्शन से बचाने में बहुत बड़ा योगदान निभा सकता है।

गैस की समस्या में कारगर है लहसुन

जब आप सब्जी बनाएँ तो उसमे जरूरत से 2-3 लहसुन ज्यादा डालें, यह आपके पेट में अक्सर होने वाली गैस और एसिडिटी को दूर करेगा और सुबह-सुबह आपका पेट बड़ी अच्छी ढंग से साफ होगा।

बुखार दूर करने के लिए

प्राचीन समय में अगर किसी को ज्वर हो जाता था तो उसे ठीक करने के लिए लहसुन का प्रयोग घरेलू औषधि के तौर पर किया जाता था। लहसुन बुखार दूर करने के लिए बहुत फायदेमंद मानी जाती है जो बहुत जल्द असर दिखाती है और रोगी को स्वस्थ कर देती है।

दमा रोगियों के लिए है लाभदायक

आयुर्वेद के अनुसार अगर लहसुन को सरसों के तेल में उबालकर तेल से नाक और छाती की मालिश की जाए तो इससे रोगी के फेफड़े में जमा कफ कम होता है और अस्थमा से भी राहत मिलता है।

कान के कीड़े मारता है

लहसुन के अनोखे फायदे में से यह एक बेहतर लाभ है। लहसुन का तेल अपने कान में डालने से यह कान के कीड़े मार सकता है इतना ही नहीं यह कान में होने वाले असहनीय दर्द के लिए भी जड़ी-बूटी का काम करेगा।

दांत दर्द में हैं फायदेमंद

लहसुन में कुछ ऐसे तत्व की उपस्थिति होती है जो आपके दांत की चुभन और उसकी असहनीय पीड़ा को पल भर में दूर कर सकते हैं। इसके लिए आप लहसुन को कूंटकर उसका पेस्ट तैयार करें और अपने दांतों पर कुछ देर के लिए लगा रहने दें। इससे दांत के दर्द में बहुत आराम मिलेगा।

कील मुंहाँसे दूर करता है

यह आपके रक्त की शुद्धि करता है और आपको कील, मुंहाँसे की समस्या से राहत दिलाता है। आप कील मुंहाँसे के लिए लहसुन का इस्तेमाल दो तरह से कर सकते हैं।

आप इसकी २ कलियाँ रोज चबाकर खाएंं या फिर आप इसे कूंटकर इसके पेस्ट को प्रभावित क्षेत्र पर 1 मिनट के लिए लगाएं।

बालों के लिए है फायदेमंद

जैसे की हमने ऊपर इस बात का जिक्र किया है कि लहसुन में एंटी-बायोटिक और एंटी-फंगल गुण भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं और यही वजह है की लहसुन बालों को कई फायदे देता है।

रोज कच्ची लहसुन के सेवन मात्र से आप अपने बालों में रूसी (dandruff) को दूर करता है और बालों को झड़ने से रोकता है।

झुररियाँ दूर करता है

लहसुन में मौजूद इफरात मात्रा में एंटी-ओक्सिडेंट गुण आपके त्वचा को कई तरह से लाभ देता है और इनमे से ख़ास यह है की यह झुर्रियों को अच्छी तरह से साफ कर सकता है और आपको चमकदार त्वचा का अनुभव करा सकता है।

स्ट्रेच मार्क दूर करती है

अगर लहसुन को तेल में गर्म कर उस तेल से अपने स्ट्रेच मार्क्स वाली जगह पर मसाज करते हैं तो इससे आपके स्ट्रेच मार्क्स को आसानी से दूर किया जा सकता है। महिलाओं को डिलीवरी के बाद या एक उम्र के बाद अक्सर स्ट्रेच मार्क्स का सामना करना पड़ता है और इसे हटाने के लिए आप लहसुन का ऐसा प्रयोग कर सकती हैं।

मस्सा दूर करता है

कितना भी बड़ा मस्सा क्यों न हो, लहसुन का पेस्ट मस्से पर रोज 10 मिनट के लिए लगें।15-20 दिन तक ऐसा करने से आपका मस्सा जड़ से ख़तम हो जाएगा।

लहसुन का उपयोग कैसे करें

हमने ऊपर लहसुन के कई फायदे बताएं हैं जिनमे हमने यह जिक्र नहीं किया है कि आपको उस फायदे को प्राप्त करने के लिए लहसुन का किस तरह प्रयोग करना चाहिए। हम नीचे आपको इसके प्रयोग करने की कुछ विधि बता रहे हैं जिनमे से किसी एक को आप इस्तेमाल कर सकते हैं।

  1. आप दो-तीन लहसुन चबाकर पानी पी सकते हैं।
  2. 2 लहसुन दूध में उबालकर दूध पी लें।
  3. लहसुन को भुनकर भी खा सकते हैं, यह लहसुन स्वाद को बढ़िया कर देता है।
  4. आप शहद और लहसुन भी खा सकते हैं।
  5. लहसुन की चटनी का भी प्रयोग कर सकते हैं, लेकिन, चटनी 3 कलियों तक की ही हो।

लहसुन खाने के हो सकते हैं ये नुकसान

मुंह से दुर्गन्ध

अगर लहसुन का किसी भी तरह से सेवन किया जाए तो यह आपके मुंह में दुर्गन्ध की स्थिति पैदा कर सकती है। हालाँकि मुंह की दुर्गन्ध का घरेलू इलाज किया जा सकता है।

पेट संबधित कई समस्याएँ

लहसुन के सेवन से पेट से संबधित कई गंभीर बीमारियाँ हो सकती है। जैसे पेट में छाले हो जाना, उलटी की समस्या, मतली होना, और पेट में जलन की समस्या हो सकती है।

दिमागी समस्या

इससे न्यूरॉन प्रभावित होते हैं और आपको कई दिमागी समस्या से जूझना पड़ सकता है। इससे आपकी सोचने की शक्ति पर असर पड़ता है। यही वजह है की पायलट लहसुन आदि कई तामस पदार्थ का सेवन नहीं करते हैं।

ब्लीडिंग हो सकती है

लहसुन रक्त को पतला करती है इसलिए अगर आपको कोई चोंट है या फिर आप सर्जरी कराने वाले हैं तो इसके सेवन से बचें। लहसुन का सेवन घाँव भरने में समस्या खड़ा कर सकता है। यहाँ तक कि इससे आपको लगातार ब्लीडिंग हो सकती है।

गर्भवती महिला न करे इसका सेवन

अगर गर्भवती महिला लहसुन का सेवन करती है तो इससे उसके कोख में पल रहे बच्चे को खतरा हो सकता है। उसके दिमाग में न्यूरॉन डेवलपमेंट सही तरीके से नहीं होगा।

त्वचा रोग भी हो सकते हैं

किसी किसी को लहसुन एलर्जी होती है और ऐसे में वे कई तरह की त्वचा सम्बन्धी समस्याओं में फँस सकते हैं। इसलिए, अगर आपको एलर्जी की समस्या है तो लहसुन का सेवन कतई न करें।

गर्मी बढ़ा देती है

लहसुन की तासीर बहुत गर्म होती है और अगर आप सिर दर्द आदि जैसी कई समस्याओं से पीड़ित हैं तो लहसुन की वजह से शरीर में गर्मी बढ़ जाना अच्छा नहीं होता है।

लहसुन के सेवन में सावधानी:

कई लोगों के लिए लहसुन का सेवन खतरनाक हो सकता है, इसलिए उन्हें इसके सेवन से पहले एक बार इन सावधानियों को जरूर पढ़ लेना चाहिए।

  1. अगर आप किसी भी तरह की बीमारी से पहले से ही पीड़ित हैं तो लहसुन का सेवन करने से बचना चाहिए।
  2. माइग्रेन की समस्या होने पर या अन्य सिर से सम्बंधित कोई भी समस्या होने पर आपको लहसुन के सेवन से परहेज करना चाहिए।
  3. अगर आपको निम्न रक्तचाप की समस्या हो तो लहसुन का सेवन न करें, क्योंकि यह आपके रक्तचाप को और भी ज्यादा लो कर सकता है।
  4. आप एक दिन में तीन लहसुन से ज्यादा प्रयोग न करें।

लहसुन में मौजूद पोषक तत्व

नीचे दिए गए पोषक तत्व 100 ग्राम लहसुन पर आधारित हैं।

Lahsun ke poshak tatwa, garlic nutirional value
Lahsun ke poshak tatwa, garlic nutirional value
Gravatar Image
Sarthak Upadhyay is a health blogger and creative writer, who loves to explore various facts, ideas, and aspects of life and pen them down. The whole site is managed by him. Writing is his passion and enjoys writing on a vast variety of subjects. Periods, pregnancy, and Home-remedies are his specialty areas.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *