7 दिन में मोटा होने के लिए आयुर्वेदिक दवा और पाउडर- mota hone ki dawa

Posted on

मोटा होने की दवा-आज के समय में हर कोई फिट रहना चाहता है और इसके लिए शरीर में फैट की अत्यंत आवश्यकता होती है। कई लोग बचपन से ही दुबले पतले होते है और वे के हर तरीके को ढूंढते हैं, लेकिन वे अपने शरीर का फैट नहीं बढ़ा पाते  हैं।

इस बात से परेशान कई लोगों ने हमसे कमेन्ट में  सवाल किया की सर आप हमको मोटा होने की आयुर्वेदिक दवा के बारे में बता दीजिये। तो कुछ दुखियों की बातों का खयाल  रखते हुए आज  हम आप तक मोटा होने का पाउडर, टेबलेट लेकर आए हैं, जिन्हे जानकर अगर आप उसे मोटा होने के लिए प्रयोग में लाते हैं तो आप आसानी से मोटे हो सकेंगे।फिलहाल इन दवाओं के कुछ साइड इफ़ेक्ट भी होते हैं, जिनके बारे में हम नीचे विस्तार से चर्चा करेंगे।

मोटा होने का पाउडर

एंड्यूरा मॉस गेनर पाउडर –

इस पाउडर की की मदद से आप कुछ ही दिनों में अपने बॉडी फैट को बढ़ा सकते हैं। यह पाउडर बहुत बेहतर पाउडर है जिसे मैंने भी यूज किया है। इस वजन बढ़ाने के पाउडर को इस्तेमाल कर के आप भी अपना वजन बढ़ा सकते हैं और मोटा हो सकते हैं। यह बाजार में आपको आसानी से मिल जाएगा।

मसल मॉस फैट गेनर पाउडर 

मोटापा या वजन बढ़ाने का यह पाउडर भी बहुत काम का है। इसे खरीद कर आप 1 सप्ताह में ही 1 से २ किलो वजन बढ़ा   सकते हैं। इस पाउडर के बारे में डॉक्टर्स भी सलाह देते हैं। मोटा होने का पाउडर में आप इसे जरूर खरीदे।

बाजार में इसकी कीमत 1500 रुपए है, अगर आप इसे ऑनलाइन खरीदेंगे तो यह आपको थोड़े दाम में ही मिल जाएगा।ये थे दो ख़ास पाउडर जिनकी मदद से आप अपने मोटापा को बढ़ाने में आसानी होगी। अगर आपको ये प्रोडक्ट ऑनलाइन खरीदने में कोई प्रॉब्लम होती है तो आप नीचे कमेन्ट के जरिये पूँछ लें।

मोटा होने की दवा

मोटा होने के लिए आयुर्वेदिक दवाएँ

अश्वगंधा

आयुर्वेद में mota hone ki dawa में अश्वगंधा का प्रयोग करना बहुत ही बेहतर बताया गया है। ऋषि मुनियों द्वारा बताया गया है की अगर आप अश्वगंधा पाउडर का दो चम्मच सुबह और शाम एक-एक गिलास दूध के साथ पीते हैं तो कुछ ही सप्ताह के भीतर अपने मोटापे को आसानी से बढ़ा सकते हैं। यह पाउडर आपके भूँख को भी बढ़ाएगा, जिससे आप खाना ज्यादा खाएंंगे और आपका वेट गेन होगा।

यष्टिमधु नामक पाउडर 

यष्टिमधु पाउडर की मदद से आप खुद को मोटा कर सकते हैं। दरअसल, यह उन व्यक्तियों के लिए बहुत उपयोगी होता है जिन्हें भूँख नही लगती है। यह मोटा होने की आयुर्वेदिक औषधि है। यष्टिमधु पाउडर के सेवन से हमारा पाचन तन्त्र मजबूत हो जाता है।

मोटा होने के लिए पेट का ठीक होना और अच्छी भूँख की भी जरुरत होती है। इस पाउडर की मदद से आप भूख को बढ़ा सकते हैं। जिनके शरीर में भोजन का असर न दिखता हो उन्हें इस पाउडर का सेवन करना चाहिए। 

शतावरी पाउडर या टेबलेट

अक्सर यह देखा जाता है की, प्रेगनेंसी के वक़्त महिला के वजन में कमी आ जाती है। अगर, प्रेगनेंसी में महिला के वजन में गिरावट आती है तो, डिलीवरी के समय महिला को काफी दर्द और परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

ऐसे में शतावरी का प्रयोग करकर गर्भवती महिला फिर से अपने वजन को बढ़ा सकती हैं। गर्भवती महिलाऐं शतावरी का इस्तेमाल पाउडर या फिर टेबलेट के रूप में कर सकती हैं। लेकिन, किसी अच्छे आयुर्वेद के डॉक्टर से सलाह लेकर ही गर्भवती महिलाऐं इसे उपयोग में लाएं।

मोटा होने के लिए अंग्रेजी दवा

आपको बताना चाहेंगे की जो अंग्रेजी दवाई में आते हैं उन्हें इस्तेमाल करने की सलाह हम नहीं देते हैं। जैसा की हमने आपको ऊपर कुछ ख़ास दवाओं के बारे में विशेष जानकारी दी है आप उसमे दिए गए दवाओं को इस्तेमाल कर के मोटापा बढ़ा सकते हैं। यह वजन बढ़ाने की दवाएं का कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं होता है।

मोटा होने की अंग्रेजी दवा के साइड इफ़ेक्ट

  • आपकी शरीर जरूरत से ज्यादा फूल जाती है।
  • सीमन की कमी भी हो सकती है।
  • हार्ट बीट तेज हो जाने की समस्या का भी सामना करना पड़ सकता है।
  • मूत्रत्याग के दौरान बहुत पीड़ा होना।
  • पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द।
  • लीवर और किडनी में दर्द होना।
  • किडनी या लीवर का फ़ैल हो जाना।
  • पीलिया
  • हमेशा सुस्ती महसूस होना।
  • चक्कर का सामना या फिर उलटी होना।
  • मलत्याग के दौरान दर्द होना।
  • मल का रंग बदल जाना।

सावधानी:

आप अपने शरीर के फैट को बढ़ाने के लिए किसी भी तरह की अंग्रेजी दवाइयों का प्रयोग न करें। इससे सबसे बड़ा नुकसान आपके किडनी और लीवर को होता है। साथ ही आपको ऊपर बताए गए सभी लक्षण का सामना करना पड़ सकता है।

फिर भी अगर आप इस्तेमाल करते हैं तो आप इस बात का डॉक्टर से चेकअप करा लें की कही जो दवा आप इस्तेमाल में लाने वाले हैं क्या उसका आपके शरीर में कोई एलर्जी तो नहीं है। हमारे सलाहानुसार आप मोटा होने के लिए अंग्रेजी दवाओं का प्रयोग करने से बचें।

मोटा होने की दवा, पाउडर और टेबलेट से अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न- FAQ

जो हमने आपको ऊपर मोटा होने के पाउडर, दवा और टेबलेट के कुछ नाम बताएँ हैं। उन्हें यूज करने के लिए हमसे लोग कई प्रश्न पूछते हैं। जिसका उत्तर हम आपको प्रश्न सहित बताने वाले हैं।

मैं कितने दिन में मोटा हो जाउँगा

वैसे तो ऊपर बताई गई सभी दवाएँ अपना असर आपको सात दिन में भी दिखाने लगती है। लेकिन, आपको मोटा होने में लगभग १ से २ महीने तक लग सकते हैं।

मैं इन mota hone ki dawa को कब तक यूज करूं

इस प्रश्न का उत्तर यह है की आप जब तक अपने हेल्थ में परिवर्तन नहीं देख लेते हैं आप इन दवाओं का यूज करें। लेकिन, अगर आपको २ महीने के बाद भी आपके स्वास्थ्य में कोई परिवर्तन नहीं नजर आता है तो आप फ़ौरन इन दवाओं का प्रयोग करना बंद कर दें।

इसके साथ और क्या खाना चाहिए?

इन दवाओं का प्रयोग करने के साथ आपको अदीन में ४ बार खाना खाना चाहिए। खाना हेल्दी होना चाहिए। ये सभी दवाएं तभी काम करेंगी जब आप खाना खाएंँगे।

मैं कौन-कौन सी mota hone ki dawa का प्रयोग करूं?

आप कोई भी एक दावा का प्रयोग करें। सभी दवाओं का प्रयोग वर्जित है। बस आप अश्वगंधा और सतवारी एक साथ ले सकते हैं।

खाना नहीं पचने के कारण वजन नहीं बढ़ रहा है क्या करूँ

इसके लिए आपका पाचन दुरुस्त होना चाहिए। आप पंचासव नाम की सिरप यूज करें। इसके साथ आप अश्वगंधा और सतवारी को प्रयोग में लाएं।

कौन से उम्र के व्यक्ति इनका प्रयोग करें

जब बच्चा लंबा हो रहा होता है तो वः दुबला पतला ही दिखाई देता है। आप इन दवाओं का प्रयोग 18 वर्ष के ऊपर वाले व्यक्तियों के ऊपर कर सकते हैं। अगर आप इस उम्र से छोटे व्यक्ति के लिए मोटा होने की इन दवा या पाउडर का प्रयोग करना चाहते हैं तो हमसे कमेंट में पूछ लें या फिर अपने डॉक्टर से सम्पर्क करें।

Gravatar Image
Lyfcure specifically shares important information related to pregnancy, periods and home remedies. Lyfcure has introduced a lot of pregnancy and health related information to the whole people in 2018 who belongs to india and reads hindi. we are mot popular in India as a health consultant.