pasine ki gandh kaise door kare

पसीने और शरीर की बदबू दूर करने के बेहतर उपाय – pasine ki gandh kaise door kare

Posted on

pasine ki gandh kaise door kare- पसीना निकलना एक आम बात है। लेकिन, पसीने में बदबू आना बहुत खराब है जिससे हम कहीं खड़े होने पर लज्जा महसूस करते हैं। तो चलिए पसीने की बदबू को कैसे दूर करें या शरीर के बदबू को कैसे दूर करें के बारे में जानते हैं।

क्यों आती है बदबू ? बदबू होने के पीछे की वजह


ग्लैंड हैं जिम्मेदार

हमारे शरीर में पसीना को उत्पन्न करने वाले दो ग्लैंड हैं। पहला – एसेरीन ग्रंथियां और दूसरा – Apocrine ग्रंथियां।

         1. एसेरीन ग्रंथियां: ये ग्रंथियां पूरे शरीर में पाए जाते हैं। एसीसीआरन ग्रंथियों द्वारा उत्पन्न पसीने कुछ नलिकाओं के माध्यम से त्वचा की सतह तक पहुंचता है। वे आम तौर पर हमारे शरीर का तापमान बनाए रखने के लिए जरूरी होते हैं।

         2. एपोक्रिन ग्रंथियां: ये ग्रंथियां हमारे शरीर में निर्मित गंदे गंध के लिए जिम्मेदार हैं। Apocrine ग्रंथियां आमतौर पर हमारे आर्म्स, जांघ, जननांग क्षेत्र और ब्रैस्ट में पाए जाते हैं। वे स्तन के दूध में वसा बूंदों के स्राव के लिए जिम्मेदार हैं और कानों में कान की थैली का उत्पादन करते हैं।

             महत्वपूर्ण तथ्य: Apocrine ग्लैंड उम्र के अनुसार बढ़ती और घटती हैं और इस तरह से बदबू भी घटती और बढ़ती रहती है।

पोषक की कमी

अगर आपके शरीर में पोषक तत्व की कमी है तब भी आपको पसीने की बदबू और शरीर कि बदबू का सामना करना पड़ता है।

बैक्टीरिया – Bacteria

bacteria आपके त्वचा में मौजूद प्रोटीन को तोड़ देते हैं जिसके चलते शरीर में शरीर की बदबू या पसीने की बदबू आने लगती है।

हाइजीन

अगर आप अपने शरीर और कपड़े की साफ-सफाई नहीं करते हैं तो आपको ये समस्या हो सकती है।

तामसिक आहार

लहसुन और प्याज के सेवन से भी शरीर और पसीना बदबू देता है। लेकिन, यह ज्यादा लागू नहीं होता है।

किडनी रोग

अगर आपको किडनी रोग है तब भी आपके शरीर में पसीने से बदबू आती है।

शरीर के बदबू या पसीना का बदबू दूर करने के घरेलू उपाय :


तेल

तेल का इस्तेमाल शरीर की बदबू को दूर करने के लिए किया जा सकता है। चलिए कुछ तेल और उन्हें उपयोग करने के तरीके के बारे में जानते हैं।

नारियल का तेल

इसके लिए क्या चाहिए ?

  • नारियल का तेल
  • एक चम्मच सिट्रिक एसिड का पाउडर
  • 1 कप साफ पानी।

नारियल का तेल पसीने की बदबू दूर करने के लिए कैसे इस्तेमाल करें ?

  • नारियल के तेल को अपने शरीर के उस भाग में लगाइए जिससे गंध आती हो।
  • साफ पानी में 1 चम्मच सिट्रिक एसिड के पाउडर को मिला लें।
  • 10 मिनट बाद नारियल के तेल को सिट्रिक एसिड वाले पानी से धो दें।
  • अब टॉवल से बॉडी को पोंछ लें।
  • यह तरीका रोज अपनाएं।

नारियल के तेल में लौरिक एसिड मौजूद होता है जो शरीर के bacteria को ख़त्म कर पसीने की बदबू या शरीर की बदबू को ख़त्म करता है।

चाय के पेड़ का तेल

इसके लिए क्या चाहिए ?

2 चम्मच चाय के पेड़ का तेल और 2 चम्मच पानी।

पानी और तेल को मिलाकर अपने बदबू वाली जगह पर लगाएँ इससे पसीने की बदबू से छुटकारा पा सकेंगे। नियमित रूप से करें।

यह एक नेचुरल एंटीसेप्टिक है और यह त्वचा में मौजूद अनचाहे bacteria और फंगस को आसानी से ख़तम कर सकता है।

लौंग का तेल

आपको क्या चाहिए ?

  • लौंग के तेल के दस बूँदें।
  • 3 चम्मच cornstarch।
  • 2 चम्मच बेकिंग सोड़ा पाउडर।
  • लौंग के तेल, cornstarch और बेकिंग पाउडर को मिला लें।
  • इस मिक्सचर को अँधेरे में 2 दिन के लिए रख दें।
  • तीसरे दिन आप इसे अपने बदबू वाले जगह पे लगाएँ।
  • दिन मे 1 बार रोज इस्तेमाल करें।

लौंग का तेल bacteria हटाता है और बेकिंग पाउडर और cornstarch आपके स्किन को अच्छी तरह से ड्राई रखता है जिससे शरीर में bacteria नहीं पनपते है और आप शरीर की दुर्गन्ध और पसीने की दुर्गन्ध से छुटकारा पा सकते हैं।

एप्पल साइडर विनेगर

इसके लिए क्या चाहिए ?

  • एप्पल साइडर विनेगर।
  • कॉटन का कपड़ा।
  • पानी।

कॉटन के कपड़ों को विनेगर में डाल दे। अब इस कपड़ें से शरीर को धोएं करें। दिन में 3 बार रोज करें।

एसिडिक नेचर (Acidic Nature) के कारण यह आपके त्वचा में मौजूद उन सभी bacteria को detox कर देता है जो आपके शरीर व पसीने में बदबू पैदा करते हैं।

एप्सोम नमक – Epsom salt

इसके लिए आपको गर्म पानी और एप्सोम नमक की जरूरत होगी। एक बाल्टी पानी में 2 चम्मच नमक मिला दें और इसी पानी से नहाएं। इस तरकीब को एक हफ्ते में 3 बार इस्तेमाल करें। एपसोम नमक एक एंटी-ऑक्सीडेंट है और हमारे शरीर को detox करने के लिए बेहतर माना जाता है।

यह हमारे शरीर में सेरोटोनिन नामक एक हार्मोन का उत्पादन करने में भी मदद करता है, जो शरीर को आराम करने में मदद करता है। एपसॉम नमक के इन गुणों में तनाव दूर होता है और इसके बदले में पसीना उत्पादन घट जाता है, जिससे हमारे शरीर से गंदा गंध नष्ट हो जाता है और पसीने की बदबू से छुटकारा पाया जा सकता है।

सौंफ

सौंफ को पानी में उबाल लें और जब पानी का रंग बदल जाए तो इसमें शहद डाल दें। इस मिश्रण को रोज सुबह खाली पेट पीएं। इससे शरीर में गैस्ट्रिक जूस का उत्पादन बढ़ जाता है। यह जूस शरीर में बदबू के उत्पादन को कम करता है और आपकी शरीर की बदबू से बचा जा सकता है।

ग्रीन टी

चाय की पत्तियों को उबलते हुए पानी में डाल दें। पानी और पत्ती का कलर जब बदल जाए तब पानी को नीचे उतार दें और ठंडा हो जाने पर इसका इस्तेमाल करें। इसका इस्तेमाल नियमित रूप से करें। यह टैनिक एसिड और एंटीऑक्सीडेंट से भरा होता है जो शरीर से सभी toxins को ख़त्म कर देता है और आपके शरीर में पसीने से होने वाली बदबू को रोका जा सकता है।

Baking soda

baking soda और पानी को मिलाकर इसका पेस्ट बना लें और आपके शरीर में जहां गंध हो उस जगह और इस पेस्ट को लगा लें। आधा घंटे बाद इसे धो दें। इससे सभी bacteria आसानी से नष्ट हो जाएंगे और पसीने से होने वाले बदबू का इलाज किया जा सकेगा। यह शरीर के गंध को दूर करता है। यह पसीने के उत्पादन को ही रोक देता है जिससे bacteria और बदबू के पनपने का चांस ही नहीं बचता है।

नींबू और पानी

2 चम्मच नींबू और 2 चम्मच पानी मिला लें। अब इस मिश्रण को अपने अंडर आर्म्स और भी गंध वाली जगह पर लगाएँ। इससे शरीर के भयानक बदबू और पसीने की गंध से बचा जा सकता है। दरअसल यह शरीर में PH value मेन्टेन करता है और शरीर में bacteria नहीं पनपने देता है।

टमाटर का रस

टोमेटो जूस लगाएँ और उसे गर्म पानी से धो दें। इस तरीके का इस्तेमाल कर आप अपने पसीने की बदबू को दूर कर सकेंगे।

गुलाब जल

गुलाब जल और एप्पल साइडर विनेगर को बराबर मात्रा में मिला ले और जब जरूरत हो तो इन्हें अपने अंडर आर्म और शरीर पर स्प्रे करें। यह बहुत ही कारगर है और आपको पसीने की बदबू से निजात दिलाता है। यह astringent की तरह काम करता है और त्वचा में pores को ख़त्म करता है जो  bacteria को लिए रहते हैं।

धनिया की पत्तियाँ

धनिया की पत्तियों का पेस्ट तैयार करें। इस पेस्ट को लगाएँ। इससे बॉडी की बदबू जरूर दूर होगी।

मक्का का आटा

मक्के के आटे का पेस्ट बनाकर अपने अंडरआर्म और पसीने वाले जगह पर लगाएँ। इससे शरीर की बदबू या पसीने के बदबू से निजात मिलेगा।

पसीने और शरीर की दुर्गन्ध को दूर करने वाले कुछ खाद्य पदार्थ


टमाटर

टमाटर में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-सेप्टिक प्रॉपर्टी मौजूद होती है और यह bacteria को मारकर पसीने की दुर्गन्ध दूर करने में मदद करता है।

इसके अलावा भी यह शरीर में उन pores को बंद कर देता है जो शरीर में पसीना का कारण बनता है और शरीर में पसीना उत्पन्न नहीं होता है और बदबू ख़त्म की जा सकती है।

इसके लिए आप टमाटर के एक गिलास जूस को रोज सुबह पीएं। साथ ही टमाटर का इस्तेमाल आप सलाद के साथ करें। इससे पसीने और शरीर की बदबू को दूर किया जा सकता है।

गेहूं का घास

शरीर से बदबू दूर करना गेहूं के घास के बिना अधूरा है। दरअसल, गेहूं के घास में क्लोरोफिल की भरपूर मात्रा मौजूद होती है। क्लोरोफिल को एक ऐसे कंपाउंड में गिनती की जाती है जो शरीर में गंध का विरोध करता है। यह आपके खून में toxins को रोककर शरीर में गंध को नहीं उत्पन्न होने देता है।

इसका इस्तेमाल पसीने की बदबू दूर करने के लिए आप इसके 2 चम्मच जूस को एक कप पानी के साथ मिला लें और रोज सुबह खाली पेट इसका सेवन करें।

नींबू

नींबू विटामिन c से भरपूर होता है। एक नींबू को एक गिलास गर्म पानी के साथ मिलाकर पीएं। इससे शरीर से toxins बाहर चले जाते हैं और वे bacteria नष्ट हो जाते हैं जो शरीर के गंध का कारण बनते हैं। अगर आप शरीर की दुर्गन्ध और पसीने की गंध से छुटकारा पाना चाहते हैं तो इसका रोज सेवन करे।

एप्पल साइडर विनेगर

एप्पल साइडर विनेगर के एक चम्मच मात्रा में एक गिलास पानी में मिलाकर पीने से भी शरीर की गंध से बचा जा सकता है। दरअसल यह शरीर में गैस्ट्रिक जूस (Gatric juice) के उत्पादन को बढ़ाने में मदद करता है। गैस्ट्रिक जूस गंध को दबाने का कम करता है और इससे आप पसीने की बदबू को दूर कर सकते है।

लौकी

लौकी पेट में गैस्ट्रिक जूस को बढ़ा देती है जिससे पसीने की बदबू दूर हो जाती है। इसलिए अगर आप भी अपने शरीर या पसीने की गंध जो दूर करने के मूड में हैं तो लौकी के सेवन से न कतराएं।

सावधानियां और टिप्स:

आहार में दे ध्यान

शरीर से जुड़ी हर चीज में आहार का एक विशेष स्थान होता है। इसलिए आप संतुलित आहार का सेवन करें। हर तरह की प्रोटीन और विटामिन से भरे हुए आहार आपके लिए उचित होंगे। संतुलित आहार का न होना भी आपके शरीर और पसीने से बदबू पैदा करता है। इसलिए आप अपने जीवनशैली में संतुलित आहार जरूर शामिल करें। इससे पसीने की दुर्गन्ध दूर होगी।

पेट के स्वास्थ्य पर दे ध्यान

कई बार ऐसा होता है कि कुछ ऐसे पदार्थ होते हैं जिन्हें पचा पाने में आपका पेट सक्षम नहीं रहता है और जब यह नहीं पचता है तो पेट में सड़कर शरीर से बहार नहीं निकलता है और इस प्रक्रिया में कई bacteria उत्पन्न होते हैं जो शरीर में गंध को पैदा करते हैं। इसलिए आप यह सवाल ढूंढ रहे हैं कि शरीर की बदबू कैसे दूर करें या पसीने की गंध कैसे दूर करें तो अपने पेट को संतुलित रखें।

अगर आपको कब्ज की शिकायत होती है तो आप तुरंत ही एक अच्छा action लें। इसके अलावा भी आपके पेट में दर्द होना, दस्त आदि में उचित रूप से ध्यान रखें। पसीने की बदबू और पेट का बहुत बड़ा कनेक्शन होता है।

तनाव से बनाए रखें दूरी

जैसे कि मैंने ऊपर बताया है कि हमारे शरीर में गंध को पैदा करने के पीछे एक ग्लैंड एपोक्रिन का हाथ होता है। अधिक तनाव लेने से या अधिक चिंता करने से यह ग्लैंड हार्मोनल सीक्रेशन तेज कर देती है। इससे पसीने में गंध पैदा हो जाती है और शरीर बदबू देने लगता है। इसलिए आप अपने आपको तनाव से मुक्त रखने के कोशिश करें।

शरीर को detox करना ना भूलें

शरीर को detox करने से शरीर से सभी दूषित पदार्थ दूर हो जाते हैं और आपके पसीने के बदबू से कैसे बचे का इलाज यही पर हो जाता है। शरीर को detox करने का सबसे बढ़िया तरीका है पानी। पानी शरीर से सभी toxins को तरल पदार्थ के माध्यम से शरीर के बाहर निकाल देता है और इससे शरीर अच्छी तरह से detox हो जाती है। इसलिए आप दिन में 6 से 8 लीटर पानी जरूर पीएं।

व्यायाम करना न भूलें

व्यायाम से शरीर का सारा toxic पसीने के माध्यम से निकल जाता है और पसीना स्वच्छ हो जाता है। इसलिए अगर आपको शरीर की बदबू से छुटकारा पाना है तो इसके लिए अप नियमित व्यायाम जरूर करें।

डॉक्टर की सलाह लें

अगर आपकी बदबू कितना भी प्रयास कर लेने के बाद भी दूर नहीं हो रही है तो सबसे बढ़िया विकल्प डॉक्टर हैं। जी हाँ अगर इन तरीकों के बाद भी आप शरीर की बदबू से परेशान है तो डॉक्टर से मदद जरूर लें।

गंध को दबाने के लिए खास परफ्यूम


गंध को दबाने के लिए खास परफ्यूम है जानने के लिए– क्लिक करें

अन्य टिप्स :


रोज शावर लें

bacteria के चलते शरीर में बदबू उत्पन्न होती है। इसलिए आप अपने शरीर को नियमित रूप से साफ़ करें। नियमित रूप से शावर ले। नहाने के लिए आप किसी bacteria मुक्त साबुन का ही इस्तेमाल करें। इससे शरीर में bacteria मर जाएंगे।

इस वक्त आप अपने पैरों, अंडरआर्म्स और बालों को जरूर धोएं। क्योंकि, इन्हीं जगह से हमारे शरीर में सबसे ज्यादा बदबू उत्पन्न होता है।

Antiperspirant का करें इस्तेमाल

इसमें मौजूद कई सारे केमिकल पसीने और शरीर की गंध को आसानी से रोकने में मददगार होते हैं। हालांकि, इसका इस्तेमाल करने से बचाना चाहिए क्योंकि यह शरीर में कई खतरनाक बीमारियों का कारण बन सकता है।

शरीर को साफ पोंछे

त्वचा में bacteria का निर्माण गीलापन की वजह से होता है। इसलिए आपको यह ध्यान देना पड़ेगा कि आपकी शरीर गीली न हो। इसलिए आप जैसे ही नहा के आए तुरंत टॉवेल से अपने शरीर को अच्छी तरह से पोंछ लें। पसीने की बदबू दूर करने के लिए इसका बहुत बड़ा योगदान होता है।

बगल के बाल रोज साफ करें

कई लोग ऐसे होते हैं कि वे अपने प्राइवेट पार्ट्स के बाल को नहीं साफ करते हैं। गंध उर bacteria को जन्म देने वाले सेल्स सबसे ज्यादा यहीं पाए जाते हैं। इसलिए आप अपने बगल और प्राइवेट पार्ट्स के बाल नियमित रूप से साफ करें। यह भी आपके पसीने की बदबू से छुटकारा दिलाने में मददगार होगा। इससे शरीर के बदबू भी दूर होती है।

कपड़ों का दे विशेष ध्यान

आप ऐसे कपड़ों का चुनाव करें जो आपके शरीर में हवा का प्रवेश अच्छी तरह से कर सकें। इससे पसीना नहीं चलेगा और शरीर की बदबू को रोका जा सकता है। साथ ही कपड़ों के भीतर एक कॉटन की बनियान पहनना न भूलें। अगर पसीना ज्यादा चलता है और बदबू भी तेज रहती है तो आप कॉटन की full बनियान ट्राई करें। बेशक यह पसीने की बदबू को कैसे रोके का इलाज कर सकेगा।

अपने कपड़ों को नियमित रूप से धोएं

कपड़े ही एक ऐसी चीज है जो शरीर में उत्पन्न हो रहे bacteria और पसीने को आसानी से सोख सकते हैं। लेकिन, सोखने के बाद यह बदबूदार हो जाते हैं और इन्हें अगर 1 घंटे ज्यादा पहन लिया जाए तो इससे शरीर में बास उत्पन्न होती है। इसलिए आप अच्छे डिटर्जेंट से इसे नियमित रूप से साफ करें।

हो सके तो दिन में 3 बार कपड़े बदले इससे भी आप समाज में पसीने की बदबू से दूर रह सकेंगे और शरीर से बदबू नहीं आएगी।

Gravatar Image
We share all the health-related information with everyone on our site. Lyfcure specifically shares important information related to pregnancy, periods and home remedies. Keeping special care of everyone’s life, we deliver information to you, which is absolutely accurate.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *