pathri ka ilaj – 15 दिन में 100% पथरी घोलने का इलाज करेंगे ये घरेलू उपाय

पथरी बहुत जटिल विकार है जिसके हो जाने पर हमें विभिन्न प्रकार की समस्याएँ होती है। पथरी का दर्द बहुत भयानक होता है तथा कई बार इतना तेज दर्द उठता है कि, दर्द का सहन कर पाना हमारे लिए मुश्किल होता है। सबसे पहले हम आपको बताना चाहेंगे की हमने पहले ही पथरी की कुछ दवाइयों के बारे में लिखे दिया है जो एक महीने में ही अपना असर दिखाती है। फिलहाल पथरी के घरेलू इलाज के बारे में इस लेख में विस्तृत रूप से वर्णन किया गया है जो आपके लिए काफी फायदेमंद होगा। लेकिन, pathri ka ilaj के लिए एक शर्त है कि आपको जो सावधानियां बताई जाएंगी उन्हें सही ढंग से फॉलो करना पड़ेगा।

पथरी क्यों होती है – pathri ka karan

गुर्दे हमारे रक्त को detox करते हैं और शरीर से विषाक्त को बाहर निकालते हैं। इस प्रक्रिया के दौरान ऐसी संभावनाएं भी बन सकती हैं जिससे कुछ पदार्थ पेशाब मार्ग से बाहर नहीं जा पाते हैं और एक जगह पर एकत्रित होकर कुछ क्रिस्टल बना लेते हैं। यह क्रिस्टल अगर छोटे हुए तो मूत्र मार्ग से धीरे-धीरे बाहर चले जाते हैं।

लेकिन, अगर ये बहुत बड़े हुए तो एकत्रित होने लगते हैं और पथरी का आकार ले लेते हैं।ज्यादातर ऐसी नौबत तब आती है जब हम ऐसे पदार्थ का सेवन करते हैं जिसे शरीर से बाहर निकालने में हमारे किडनी को बहुत ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है।

पथरी के लक्षण – pathri ke lakshan

  • पेट में दर्द
  • पीठ के निचले हिस्से और / या पक्षों में दर्द
  • कमर के क्षेत्र में दर्द
  • पेशाब करने पर दर्द होना
  • मूत्र में रक्त
  • असामान्य मूत्र का रंग
  • जी मिचलाना
  • बुखार और ठंड लगना

पथरी का घरेलू इलाज – pathri ka ilaj, gharelu upay aur nuskhe

हम इस लेख में पथरी का इलाज कई तरीकों के माध्यम से बताएँ हैं। अगर आप इसका इलाज घरेलू उपाय और नुस्खे से करना चाहते हैं तो नीचे इसके बारे में बताया गया है।

अजवाइन का पानी

अजवाइन में कुछ ऐसे गुण होते हैं जो आपके पथरी को घोलने का काम करता है और उसके दर्द को भी कम करता है। अगर आप पथरी के दर्द से परेशान है तो यह आपके लिए और भी ज्यादा फायदेमंद होगा।

पथरी के घरेलू नुस्खे के लिए आपको एक कप पानी में २ चम्मच अजवाइन डालना है और कुछ देर तक उसे गैस पर उबलने देना है। जब यह अच्छी तरह से तैयार हो जाए तो आप इस पानी को पीएं। इस पानी को दिन में तीन से 4 बार पीएं, ऐसा करने से आपकी पथरी २ हफ्ते में ही कुछ मात्रा में घुल जाएगी।

सौंफ और धनिया पथरी घोलने में करेंगे मदद

हमें यकीन है की यह उपाय आपके पथरी को घोलने और इसके इलाज के लिए बहुत बढ़िया साबित होगा और इसे तैयार करने के लिए आपको सभी सामग्री अपने घर के किचन पर ही मिल जाएंगी।

इस दवा को बनाने के लिए आपको सौंफ, धनिया और मिश्री पाउडर की आवश्यकता होगी। आपको इन तीनों पाउडर को २ चम्मच की बराबर-बराबर मात्रा में लेकर २ गिलास पानी में मिलाकर रात भर के लिए भिगोकर रख दें। और सुबह उठने के बाद आप इसे छलनी की मदद से छान कर पानी को पी लें।

एलोवेरा जूस

पथरी का इलाज करने के लिए और इसके दर्द से छुटकारा दिलाने के लिए एलोवेरा का प्रयोग काफी ज्यादा फायदेमंद साबित होगा। ध्यान रहे! आप एलोवेरा जूस को खुद से घर में बनाएं। एलोवेरा जूस तैयार करने के बाद आप आधा छोटी गिलास एलोवेरा जूस नियमित रूप से पीएं। यह नुस्खा आपके पथरी को बड़े ही आसानी से घोल सकेगा।

पथरी के लिए केला भी होता है फायदेमंद

केला में कई ऐसे एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो पथरी घोलने के लिए बहुत बेहतर माने जाते हैं। इसके लिए आपको कुछ नहीं! बस रोज सुबह 3 से 4 केले खाने होंगे। यह आपके पथरी को दूर करेगा। पथरी का इलाज के लिए केला को आप 15 से 20 दिन उपयोग करिए आपको बहुत ज्यादा फर्क नजर आएगा।

पथरी के घरेलू उपचार के लिए नींबू-पानी भी है फायदेमंद

सिट्रिक एसिड का सबसे बढ़िया स्रोत नींबू को ही माना जाता है। यह अपने साथ कई गुण समेटे रहता है। उन्हीं गुणों में इसका पथरी को घोलने का भी एक गुण है जो पथरी रोगियों के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद रहता है।

अगर आप रोज सुबह एक गिलास गर्म पानी में एक नींबू घोलकर पीते हैं तो यकीन कीजिये आपकी पथरी कुछ ही दिन की मेहमान है। नींबू-पानी pathri ka ilaj के लिए एक बेहतर नुस्खा है जो आसानी से आपको मिल जाएगा।

भरपूर पानी पीएं

पानी, पथरी को घोलने के लिए सबसे बढ़िया उपाय है। यह आपके किडनी और पूरे शरीर को साफ करता है और आपको पथरी से भी छुटकारा दिलाता है। इसलिए आप जितना हो सके उतना पानी पीएं।

तरबूज

आप तरबूज सहित अन्य फलों का सेवन करें जिनमें जल की भारी मात्रा पाई जाती हो। इन फलों के नियमित सेवन से आपके शरीर में पेशाब ज्यादा बनेगा और उसके माध्यम से पथरी धीरे-धीरे घुल जाएगी।

अनार

आप अपने नियमित आहार व नाश्ता में अनार अथवा उसके जूस को शामिल करें। मात्र पन्द्रह दिनों में ही यह आपकी पथरी को आपके पेशाब मार्ग के द्वारा बाहर निकाल सकता है। अगर पथरी ज्यादा बड़ी हुई तो आपको ज्यादा वक्त देना पड़ेगा।

ये हैं पथरी के लिए कुछ ख़ास आयुर्वेदिक इलाज जिनका आपको प्रयोग करना चाहिए। इसके नियमित प्रयोग से आप pathri ka ilaj आसानी से कर सकेंगे।

एप्पल साइडर विनेगर

इसका केमिकल संरचना बहुत ख़ास है, और यही वजह है की इसका प्रयोग कई तरह की पथरी को साफ करने के लिए किया जाता है।। डेढ़ चम्मच विनेगर को एक गिलास पानी के साथ अच्छी तरह से मिलाकर रोज पीएं, यह नुस्खा आपके किडनी स्टोन को बड़े आसानी से घोल सकता है।

बेकिंग सोडा

मात्र 2 चम्मच खाने वाला सोड़ा एक गिलास पानी में घोलकर पीने से किडनी स्टोन से राहत मिलती है दरअसल, इसका स्वभाव क्षारीय होता है और यह अम्लीय को कम कर पथरी को साफ करने का कार्य करता है।

तुलसी का रस और शहद

तुलसी के ताजे रस और शुद्ध शहद को बराबर मात्रा में मिलाकर 2 चम्मच रस नियमित रूप से सुबह-शाम पीने से गुर्दे व पित्त की पथरी समाप्त की जा सकती है।

आंवले का चूर्ण और मूली

आप आंवले का चूर्ण तैयार कर लें और साथ में मूली लें। आप रोज एक मूली और 30 ग्राम आंवले का चूर्ण खाएं। इससे आपकी पथरी घुल जाएगी और 15 से 20 दिनों में ही इसका फर्क आपको नजर आने लगेगा। अगर आप आंवला खाते है तो भी इससे आपको pathri ka ilaj करने में आसानी होगी।

प्याज का रस

pathri ka ilaj के लिए प्याज का रस बहुत फायदेमंद है। प्याज का रस तब अधिक ज्यादा फायदेमंद होता है जब प्याज पका हो। इसके लिए आप प्याज के रस को रोज सुबह आधा गिलास पीएं।

रस बनाने के लिए आप एक प्याज को बारीक मात्रा में काट लें और किसी बर्तन में 2 गिलास पानी लेकर प्याज को उबालें। जब प्याज पाक जाए और प्याज/पानी का रंग बदल जाए तो आप प्याज छानकर पानी निकाल लें। यह पके प्याज का रस है, अब आप इसे पी लें।

मूली के पत्तों का रस

अगर आप ताजा मूली के हरे पत्तों का रस निकालकर पीते हैं तो यह पथरी घोलकर pathri ka ilaj के लिए एक बेहतर आयुर्वेदिक नुस्खा है। ध्यान दें, कि आपके मूली के पत्ते हरे और ताजे होने चाहिए। आप 100 ग्राम रस रोज पीएं।

पथरचटा के पत्ते

pathri ka ilaj के लिए पथरचटा के 12 पत्तों को एक साथ लेकर एक गिलास पानी में डालकर पानी को अच्छी तरह से उबाल लें और जब पानी पूरी तरह से उबल जाए और उसका कलर बदल जाए तो आप उसे किसी साफ बर्तन पर छानने के बाद ठंडा कर लें और जूस को पी लें। यह आपके पथरी को 15 दिन में ही तिहाई (1/3) भाग काम कर देगा।

मक्के के बाल की चाय

आप बाजार से एक मक्के की बाल से निर्मित चाय ले आएं और उसमें दिए गए सलाह के मुताबिक़ आप चाय का निर्माण करें और पी जाएं।

केला की तना

एक कप छोटे-छोटे टुकड़ों में कटे केले की तना, एक छोटा नींबू, एक कप पानी, और आवश्यकतानुसार नमक की जरूरत होगी।

केले की तनाओ को एक कप पानी में आधा घंटे तक उबालें। जब पानी पूरी तरह से सूख जाए तो आप केले की तना को निचोड़कर जूस निकाल लें। अब इस जूस में आप एक नींबू निचोड़ें और आवश्यकतानुसार नमक मिलाकर तैयार रस को पी लें। यह pathri ka ilaj करने का सबसे बढ़िया आयुर्वेदिक नुस्खा है।

बिछुआ पत्ती

बिछुआ की सूखी पत्तियों को कूटकर पाउडर बना लें और इस पाउडर को पानी के साथ मिलाकर इसकी चाय बनाएँ। बिछुआ पत्ती की चाय पथरी के लिए बेहतर दवा है।

तरबूज के बीज की चाय

तरबूज के चार कप सूखे बीज का पाउडर बना लें और उस पाउडर को पानी में उबालें और इसे ठंडा होने के बाद इसकी एक कप मात्रा का सेवन रोज करें। बची हुई तरबूज के बीज की चाय आप फ्रिज में रख लें और आप 5 दिन तक इसका सेवन कर सकते है।

Horsetail हर्ब्स

हॉर्सटेल हर्ब्स को पानी में उबालें और पानी पी लें। यह पथरी की जड़ से ख़तम कर pathri ka ilaj का एक कारगर घरेलू नुस्खा है।

सिंहपर्णी के जड़ की चाय

सिंहपर्णी के जड़ को सुखा लें और अच्छी तरह से कूटकर इसका पाउडर बना लें। इस पाउडर की रोज एक कप चाय बनाएंऔर ठंडा होने पर इसे पी लें।

पथरी में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं – pathri me kya khae aur kya nahi khae

  • सोडियम से भरे पदार्थ का सेवन नहीं करना चाहिए। किसी भी खाद्य का सेवन करने से पहले उसके पोषक तत्व को देख लें और ऐसे आहार का सेवन बिलकुल भी न करें, जिसमें सोडियम की भारी मात्रा पाई जाती हो।
  • मांसाहारी खाद्य पदार्थ जो उच्च मात्रा में प्रोटीन देते हों का सेवन नहीं करना चाहिए। अंडा, मांस, मछली, गोश आदि का सेवन करने से परहेज करें।
  • कैल्शियम युक्त चीजों का सेवन कम से कम करें। अगर आप चूना खाते हैं तो आज से ही बंद कर दें।
  • उन पदार्थों का सेवन न करें जिनके बीज हो। पथरी के लिए यह घातक हो सकते हैं।
  • जंक फ़ूड के पदार्थों का सेवन बिलकुल भी न करें। इससे पथरी और भी ज्यादा बढ़ जाती है।
  • चाय, शराब, आदि का सेवन बिलकुल भी न करें।
  • नारियल का पानी और सादा पानी जरूर पीएं इससे पथरी घुलने में मदद मिलती है।
  • चना, केला और गाजर का सेवन करना इस दौरान आपके लिए लाभदायक होगा।
  • पथरी होने पर बासी खाना, कुछ दिनों का खाना और जंक पदार्थ बिलकुल भी न खाएं।
  • साइट्रस फ्रूट्स को अपने डाइट में शामिल करें इसमें मौजूद सिट्रिक एसिड आपके पथरी को घोलने में मदद कर सकती है।
  • अपने खाद्य में भारी मात्रा में घुलनशील पदार्थ शामिल करें। यह आपके पाचन को भी दुरुस्त करेगा साथ ही आपके पथरी को आसानी से घोल कर pathri ka ilaj करने में आपकी पूरी मदद करेगा।

पथरी से जुड़े कुछ सवाल और एक्सपर्ट्स द्वारा उनके जवाब

  1. किडनी स्टोन्स (पथरी) को घुलने में कितना समय लगता है?

    गुर्दे की पथरी को घोलने के लिए कुछ दिनों से कुछ हफ्तों के बीच किसी भी समय लग सकता है।

  2. आप एक पथरी के आकार को कैसे मापेंगे?

    डॉक्टर आमतौर पर गुर्दे की पथरी के आकार को जानने के लिए एक पैल्विक अल्ट्रासाउंड की सलाह देते हैं। यह आपके गुर्दे के सामान्य स्वास्थ्य और स्थिति के बारे में अधिक जानकारी भी प्रदान करेगा।

  3. पथरी की जाँच कैसे करते हैं?

    डॉक्टर आमतौर पर गुर्दे की पथरी के आकार को जानने के लिए एक पैल्विक अल्ट्रासाउंड की सलाह देते हैं। यह आपके गुर्दे के सामान्य स्वास्थ्य और स्थिति के बारे में अधिक जानकारी भी प्रदान करेगा।

    1.रक्त परीक्षण
    2.मूत्र परीक्षण
    3.अल्ट्रासाउंड

  4. गुर्दे की पथरी में दर्द कहाँ से होता है?

    जब आपके गुर्दे में एक पथरी होती है, तो दर्द आमतौर पर आपके पेट से आपके निचले हिस्से की ओर होता है। आप पीठ और कमर के क्षेत्र में भी दर्द का अनुभव भी कर सकते हैं।

  5. पथरी के लिए कौन सी एक्सरसाइज बेस्ट है

    गुर्दे की पथरी बहुत दर्दनाक हो सकती है, और इस समय के दौरान कोई भी व्यायाम करना मुश्किल होगा। आप अपने मूत्र प्रणाली को बेहतर बनाने में मदद करने के लिए पैदल चलने की कोशिश कर सकते हैं।
    प्रचुर मात्रा में पानी पीना और खाद्य पदार्थ में डॉक्टर की सलाह लेना आपके पथरी के साफ होने के लिए बहुत जरूरी है। इसलिए प्रतिदिन दो लीटर पानी पीने का लक्ष्य बनाएं। यह आपके शरीर में विषाक्त पदार्थों और अम्लता को भी धो देगा। पीने का पानी आपके शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा को कम करने में मदद करेगा, और आगे चलकर उन रासायनिक यौगिकों के संग्रह पर अंकुश लगाएगा जो पथरी का कारण बनते हैं, और पथरी का इलाज करने के लिए बेहतर उपाय हो सकता है।
    जब आप गुर्दे की पथरी के लिए इन सभी घरेलू उपचारों को करें, तो आपको अपने डॉक्टर द्वारा दी गई सलाह और दवाओं का भी पालन करना चाहिए।

Default image
Sarthak upadhyay
Sarthak upadhyay is a health blogger and creative writer, who loves to explore various facts, ideas, and aspects of life and pen them down. sarthak is known with English and hindi. Writing is his passion, and enjoys writing on a vast variety of subjects. Relationship, Astrology, and entertainment, Periods, pregnancy, and Home-remedies are his specialty areas.

Leave a Reply