पेट साफ करने की दवा, pet saaf karne ki dawa, patanjali dawa, ayurvedic, homeopathic aur allopathic dawa

1 घंटे में पेट साफ करने की खास दवा, टेबलेट्स और मेडिसिन

Posted on

पेट का साफ न रहना हर वक्त पेट में ऐंठन का कारण बना रहता है, और फिर पूरा दिन शौचालय में बीतता है। बात यहाँ तक पहुँच जाती है की बार बार टॉयलेट जाकर आपकी पतन हो जाती है। इस बात से परेशान कई लोगों से हमसे कमेन्ट में यह बात कही की सर, “प्लीज आप हमे पेट साफ करने की दवा के बारे में बताइए”।

इन चीजों को देखते हुए आज हम आपको कुछ खास आयुर्वेदिक, अंग्रेजी और होम्योपैथिक दवाइयों के बारे में बताने जा रहे हैं जिससे आपके पेट में कब्ज बिलकुल भी न रहेगा। तो चलिए जानते हैं पेट साफ करने की दवा को जानते हैं, जिसे आप आसानी से इस्तेमाल कर अपने पेट को साफ रख सकते हैं।

पेट साफ करने की दवा

हम आपके पेट को साफ करने के लिए आयुर्वेदिक, होम्योपैथिक, पतंजलि और अंग्रेजी दवा के बारे में बताएँगे।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

पेट सफा पाउडर

यह पाउडर उपयोग करने के बाद आप बिना किसी नुकसान के अपने पेट को एक घंटे के भीतर ही साफ कर सकेंगे। यह प्रकृतिक बूटियों से तैयार किया गया आयुर्वेदिक पेट साफ करने का पाउडर है, जो पेट में कब्ज और गैस को भी ख़तम करता है।

डोज- दो चम्मच पाउडर पानी के साथ खाएंँ।

झंडू पंचारिष्ट

यह पेट को साफ करने के लिए एक सिरप है जो अपना कार्य बड़ी आसानी से करता है और आपके पेट से एसिडिटी, कब्ज और भारीपन दूर करता है।

डोज– दो चम्मच सिरप और इतनी ही मात्रा में पानी को मिलाकर सुबह-शाम पियें।

पंचासव सिरप

पाँच असव से निर्मित यह पंचासव सिरप पेट में उफान को कम करता है और पेट के कब्ज को दूर कर पेट साफ करता है। यह बैद्यनाथ द्वारा निर्मित किया गया है जो लीवर और immunity को भी बेहतर बनाता है।

डोज- इसका डोज भी झंडू पंचारिष्ट के जितना ही है।

पेट साफ करने की पतंजलि दवा

पतंजलि दिव्य उदरकल्प चूर्ण

यह पेट को साफ करता है और पूरी तरह से आयुर्वेदिक है। पेट साफ करने की यह पतंजलि दवा पचाने की क्षमता को भी बढ़ाता है और खास बात यह है कि इसका कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं है।

डोज- खाना खाने के बाद ३ चम्मच पानी के साथ।

पतंजलि दिव्य चूर्ण

पतंजलि का यह चूर्ण पेट में मौजूद टोक्सिन को कम करता है और अपच कम कर पेट साफ करने में मदद करता है। यह पेट से गैस भी निकालने में मदद करता है।

डोज– इसे भी खाना खाने के बाद केमिस्ट द्वारा सलाह किये गए तरीके से प्रयोग करें।

पतंजलि त्रिफला चूर्ण

हालाँकि इसके रिव्यु अच्छे नहीं है, लेकिन, फिर भी पतंजलि इसे पेट साफ करने के लिए प्रयोग करने की सलाह देता है। हमारी सलाह मानिए तो इस दवा की जगह पतंजलि दिव्य चूर्ण या पतंजलि दिव्य उदरकल्प चूर्ण यूज करें।

डोज- पूरी तरह से ऊपर की दो दवाइयों की तरह।

पेट साफ करने की होम्योपैथिक दवा

Bryonia

पेट साफ करने की इस होम्योपैथिक दवा को मलाशय में सूखापन की वजह से पेट साफ नही होने पर और जोर लगाने से मल बाहर नहीं निकलने पर इस्तेमाल किया जाता है।

Calcarea carbonica

पेट में कुछ महसूस होता है और टट्टी जाने का मन पड़ता है फिर भी पेट साफ नहीं होता है। ऐसी स्थिति में इस दवा को लेने की सलाह डॉक्टर देते हैं।

Causticum

यह उस कंडीशन में लिया जाता है जब मॉल बाहर निकलता है। लेकिन, निकलते वक्त ज्यादा समय लेता है और दर्द भरा होता है।

इन सभी होम्योपैथिक दवा का डोज डॉक्टर ही बताएँगे।

पेट साफ करने की अंग्रेजी दवा

Dulcoflex 5 mg Tablet

ducloflex टेबलेट को पेट साफ करने के लिए उपयोग में लाया जाता है। यह एक बहुत ही फेमस टेबलेट ही जिसका इस्तेमाल करने की सलाह अक्सर डॉक्टर देते हैं। अगर आपको कभी-कभार पेट न साफ होने की समस्या बनती है तो आ इसे नॉर्मली एक टेबलेट पानी के साथ ले सकते हैं। लेकिन, अगर आपको डेली पेट साफ नहीं होता है तो इस टेबलेट को लेने के पहले डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

Bo-Lax 5 mg Tablet

Bo-Lax 5 mg को सिप्ला कंपनी द्वारा निर्मित किया गया है जिसका काम pet saaf karne ki dawa के तौर पर किया जाता है। कब्ज की शिकायत होने पर या मॉल न खुलने, या पेट साफ न होने पर आप इस टेबलेट को आसानी से उपयोग में ला सकते हैं। 

Gudlax 5 mg Tablet (गुडलैक्स tablets 5 एम. जी.)

मल साफ करने की डॉक्टर द्वारा सबसे ज्यादा सलाह दी जाने वाली दवा Gudlax 5 mg Tablet है। इसे भी पेट की कई समस्याओं के लिए उपयोग किया जाता है।

lupiplax 5 mg tabkets. (लूपिप्लेक्स 5 एम. जी.) और Bylax 5 mg tabltes को भी पेट साफ करने की कैप्सूल के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

इसे भी पढ़ें –

अंग्रेजी दवा को प्रयोग करने से पहले पढ़े ये सवाल जवाब

क्या डॉक्टर की सलाह जरूरी है

जी हाँ! अंग्रेजी दवाओं के उपयोग से पहले आपको डॉक्टर से एक बार जरूर पूछना चाहिए। नही तो आपको कोई साइड इफ़ेक्ट हो सकता है।

पेट साफ करने की एलोपैथिक दवा का साइड इफेक्ट्स

  • पेट में मरोड़
  • बेहोशी
  • मलाशय से रक्तस्राव
  • पेट की तकलीफ और दर्द
  • दस्त
  • मतली और उल्टी

यह कितने घंटे में काम करती  है?

ऊपर दी गई  सभी  टेबलेट में किसी भी एक  टेबलेट खाने के बाद पेट साफ करने के लिए कम से कम 15 से 16 घंटे लगते हैं?

कब तक कार्य करेगी?

आपके समस्या पर निर्भर है। अगर आपको हमेशा प्रॉब्लम रहती है तो जब तक यह आपके शरीर के भीतर रहेगी तब तक कार्य करेगी।

क्या शराब के साथ खा सकता हूँ/सकती हूँ?

इन टेबलेट को शराब के साथ लेने से पहले डॉक्टर से सलाह लें। हमारी सलाह यही है की आप pet saaf karne ki dawa सेवन शराब के साथ न करें।

प्रेगनेंसी में इनका इस्तेमाल किया जा सकता है?

जब तक बहुत ज्यादा जरूरत न  हो गर्भवती महिलाओं के उपयोग के लिए इस दवा की सिफारिश नहीं की जाती है। दवा को गर्भवती महिला लेने से पहले डॉक्टर के साथ इसके जोखिम और लाभ पर चर्चा करें।

इसका इस्तेमाल कब न करें

  • मलाशय से रक्तस्राव होने पर।
  • किसी तरह की एलर्जी होने पर पेट साफ करने की दवा का सेवन डॉक्टर के सलाह से ही करें।
  • आंतो पर समयसा होने पर।

इनके साथ कभी न यूज करें

  • दूध के साथ।
  • शराब के साथ न लें।

किन दवाओं के साथ पेट साफ करने की अंग्रेजी दवा न लें

जिस दवा में नीचे दिए गए तीन कंपाउंड में से कोई भी एक कंपाउंड मिलता है तो ऊपर दिए गए  दवाओं का सेवन इन कंपाउंड वाली  दवाओं के साथ कभी न करें। कंपाउंड के नाम हैं- calciumm carbonate, Magnesium carbonate, lactulose.

किसी रोग की दवा चल रही है तो क्या करें?

अगर आपके किसी रोग की दवा पहले से ही चल रही है तो पेट साफ करने की दवा का सेवन डॉक्टर के सलाह के बाद ही करें।

Gravatar Image
Lyfcure specifically shares important information related to pregnancy, periods and home remedies. Lyfcure has introduced a lot of pregnancy and health related information to the whole people in 2018 who belongs to india and reads hindi. we are mot popular in India as a health consultant.

2 thoughts on “1 घंटे में पेट साफ करने की खास दवा, टेबलेट्स और मेडिसिन

    1. इसके लिए आपको अपने डॉक्टर से पूछना होगा। वही आपके कंडीशन और आपके द्वारा खाई गई दवाइयों के मुताबिक आपके लिए यह तय कर पाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *