सिर दर्द का कारण, कारण में ही छुपा है इलाज,|| sir dard ke karan , isee me chupa hai ilaj

Posted on

 

आज हम सिर दर्द के कारण, क्यों होता है सिर दर्द, कही आपका रहन-सहन तो नहीं है इसका जिम्मेदारके बारे में जानेंगे |
आप सिर दर्द से परेशान हैं लेकिन यह नहीं जानते कि खोपड़ी में यह बीमारी ही आखिर क्यों हो रही है, कहीं इसका कारण आपकी लापरवाही तो नहीं है | सामान्य सिर दर्द हो या फिर मामला माइग्रेन का हो टेंशन और चिड़चिड़ापन होना लाजिमी है | सिरदर्द के कई ऐसे कारण होते हैं जिन पर आमतौर पर ध्यान नहीं दिया जाता है, लेकिन आप जरा सी सावधानी बरतने से असहनीय दर्द से बच सकते हैं | क्यों होता है सिरदर्द और इससे कैसे बचें इसी से जुड़े कुछ टिप्स यहां दिए जा रहे हैं |  जिन्हें फॉलो कर आप बड़े ही आसानी से सिर दर्द से छुटकारा पा सकते हैं |  
सिर दर्द का कारण, कारण में ही छुपा है इलाज दरअसल, हम आपको इसके कारण के बारे में आज इसलिए बताना चाह रहे हैं क्यूंकि कई रोगों का कारण उसका कारण होता है |  तो जिस तरह से सिर दर्द के कुछ कारण है उनको अगर जो आप अपनी लाइफ में इन्वॉल्व नहीं करते हैं तो शायद आप सिर दर्द के बच सकते हैं |

यह भी पढ़ें: हर तरह के सिर दर्द का 50 आसान इलाज और दवाइयां

यह भी पढ़ें: माइग्रेन का इलाज, लक्षण दवाई, इंजेक्शन

कहीं तनाव तो नहीं
 माइग्रेन के 80 फ़ीसदी मामलों के लिए तनाव जिम्मेदार होता है, सिलसिले जिया जर्नल में प्रकाशित एक रिपोर्ट में इस बात का खुलासा किया गया है  कि कार्टिसोल एन्द्र्नील हारमोंस में बदलाव होने लगता है जिससे सिर दर्द और उल्टी होने लगती है |  तनाव के कारण जबड़े और गर्दन की मसल्स में जकड़न की वजह से गर्दन में दर्द होने लगता है और यह दर्द इतना ज्यादा हो जाता है कि यह सिर दर्द का कारण बन जाता है | तनाव से निजात पाने का सबसे बेहतर तरीका है मेडिटेशन | जाने: तनाव से छुटकारा कैसे पाएं, योगा, मेडिटेशन, मसाज, और गहरी सांस लेने से तनाव से निजात मिल सकती है इस तरह से आप अगर अपनी लाइफ में तनाव को नहीं लाते हैं तो आप सिर दर्द की समस्या से बच सकते हैं |
 आप पढ़ रहे हैं:- सिर दर्द के कारण
खुशबू
कहीं आप खुशबू के प्रति ज्यादा सेंसिटिव तो नहीं है | याद कीजिए आपका सिर उस समय तो दर्द नहीं करने लगता जब पास बैठे किसी व्यक्ति ने तेज परफ्यूम लगा रखा है | कई बार खुशबूदार माहौल में या फिर खाने-पीने की किसी चीज में जरूरत से ज्यादा खुशबू होने पर भी सिर में दर्द होने लगता है | विशेषज्ञों का कहना है कि तेज महक के एलर्जी होने पर ऐसा होता है जिससे आपको परेशानी होती है | ‘सिर दर्द का कारण, कारण में ही छुपा है इलाज’ ऐसी तेज महक से हमेशा दूरी बनाकर ही रखें | हालांकि, एक बार सिर दर्द शुरू हो जाए तो दवा के बिना आपको निजात नहीं मिलेगा | इसलिए आप खुशबू से दूरी बनाकर ही रखें और कोशिश करें कि आपके पास कोई भी ऐसे केमिकल मौजूद ना हो जिसकी खुशबू की वजह से आपको सिर दर्द पकड़ ले|
कैफीन का ओवरडोज
अगर, आपके शरीर में जरूरत से ज्यादा कैफीन की मात्रा जा रही है तो यह भी सिर दर्द का कारण बन सकती है | कोका कोला, कॉफी, शराब, चाय पुडिंग और केक में इतनी कैफीन भरी होती है कि उन्हें खाने से सिर में दर्द हो जाता है | कैफीन की अधिकता वाली चीजें बहुत अधिक मात्रा में ना खाएं प्रोसेस्ड मीट और फीस खमीर, रेड वाइन और आर्टिफिशियल स्वीटनर वाली चीजें भोजन से एकदम कम कर दे | सिर दर्द का मामला नींद से भी जुड़ा है बेहतर होगा कि आप सही समय पर सोना अपनी दिनचर्या में शामिल कर ले  
सिरदर्द का सबसे बड़ा कारण है माहौल
मौसम में बदलाव गर्मी तेज हवा या फिर वातावरण में नमी से शौर्य सेंट लाइटिंग या टेलीविजन स्क्रीन से भी ऐसा हो सकता है साथ ही बहुत ठंडक होने से भी माइग्रेन होता है कुछ लोगों को हवाई सफर के दौरान भी सिर दर्द हो सकता है धूल मिट्टी वाले खराब वेंटीलेशन के कमरे में भी सिर दर्द हो सकता है प्रदूषण दुआ व सिगरेट के धुएं से भी सिर दर्द हो सकता है अच्छा होगा कि इस तरह के माहौल से आप हमेशा दूरी बनाकर ही रखें साफ सफाई करते समय धूल से हमेशा अपने आप को सेफ रखें इस के खातिर आप कई कपड़े या मांस का इस्तेमाल कर सकते हैं जबकि धूप में गॉगल यानि कि चश्मा छतरी का इस्तेमाल कर सकते हैं TV देखते समय या कंप्यूटर चलाते समय आप अपने आंख में बिना किसी नंबर का चश्मा लगा सकते हैं ।
खान पान भी है जिम्मेदार
 मिर्च मसाले वाला खाना खाने से समय पर खाना नहीं खाने और है भी या जंक फूड खाने से पेट में जलन एवं गैस बनने लगती है जिन्हें अधिक गैस बनती है उन्हें भी सेट कर परेशान करता है खाना खाने के तुरंत बाद लेटने से भी गैस्ट्रिक समस्या हो जाती है, ऐसे खाने से बचें जो एसिड बनाते हो हां सोने के 2 घंटे पहले खाना खा लेना चाहिए इसके अलावा खूब पानी पिए एसिड दवाई भी फायदेमंद होगी | कई बार आइसक्रीम खाने या फिर कोल्ड ड्रिंक पीने से भी सिर दर्द में दर्द हो सकता है इसे बेनिफिट्स कहते हैं जो बहुत ठंडा खाने से या पीने से होता है अधिकतर देखा जाए तो ठंडी चीजों से जरा बचकर ही रहना आपके लिए बेहतर होगा जो आपको सिर दर्द की समस्या से दूरी बनाए रखने में आपकी मदद करेगा ।
फैशन भी तो है
 बहुत चुस्त कपड़े व टाइट बेल्ट एब्डोमेन पर दबाव डालते हैं | इससे भी सिर दर्द हो सकता है | सिर दर्द हो तो जरा इस बात पर गौर करें कि कहीं आपने बहुत हैवी ईयर-रिंग तो नहीं पहनी है | अक्सर कुछ महिलाएं बालों को बेहद कस कर बांधती हैं | यह भी सिर में दर्द का कारण हो सकता है, बेहतर होगा कि हल्के ईयर रिंग पहने और बालों को ढीला बांधे या खुला रखें | आरामदायक कपड़े पहने और खाना खाते समय पेट को टाइट ना रखे | ऐसा करने से आपको सिर दर्द की समस्या हो सकती है और फैशन पर ज्यादा भरोसा ना करें अगर आप लिपस्टिक और नेल पेंट का ज्यादा  इस्तेमाल करते हैं तो इनकी खुशबू और इनके रिएक्शन की वजह से आपको सिर दर्द की समस्या हो सकती है |
नशा बन जाता है सिरदर्द का कारण
नशा करने से आपके शरीर में ब्लड प्रेशर में काफी चेंज हो जाते हैं, ब्लड प्रेशर में चेंज आपके सिर तक खून के दौरान को प्रभावित करता है खून के दौरान के प्रभावित होने के चलते आपके सिर में एक अजब चुभन सी होने लगती है यह चुभन सिर दर्द का कारण बन सकती है |  यह इतना तेज हो जाती है कि आपको यह समस्या दवाई लिए बिना ठीक नहीं की जा सकती | “सिर दर्द का कारण, कारण में ही छुपा है इलाज
शोर शराबा 
अगर आपके माहौल में ज्यादा शोर हो रहा है तो आपका सिर दर्द होना स्वाभाविक बात है | यह अक्सर देखा जाता है कि हर आदमी आज के परिवेश में हर वक्त गाड़ी, लाउडस्पीकर के ध्वनि से ग्रसित है | यह ध्वनि आपके सिर में मौजूद सेल्स में प्रभाव डालती है, यह सेल्स इस ध्वनि को सहन नहीं कर पाते हैं, तब आपको सिर दर्द की समस्या हो जाती है |
इसका इलाज –  अगर किसी भी रोग के कारण का पता लग जाए तो उस पर चिंतन करना आसन हो जाता है और उसका इलाज भी मिल जाता है | अगर आपको सिर दर्द की समस्या ऊपर दिए गए कारणों की वजह से हो रही है तो आप इन कारणों कू अपने से दूर करने की कोशिश करें | जैसे ही यह कारण आपसे हट जाएँगे आपका सिर दर्द भी गायब हो जाएगा |
इस तरह से आप इन कारणों को जान अपने आपको सिर दर्द से बचा सकते हैं | अगर पोस्ट पसंद आए तो शेयर करना न भूलें | सिर दर्द के कारण में ये सभी कारण लेटेस्ट कारण हैं, जो आयुर्वेद से लिए गए हैं |
@lyfcure

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *